Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उरी अटैक: शहीदों के शव पहुंचे घर, सिसक पड़े परिवार

उरी आतंकी हमले में शहीद हुए 18 जवानों में से 7 जवान उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल और बिहार के हैं।

उरी अटैक: शहीदों के शव पहुंचे घर, सिसक पड़े परिवार
नई दिल्ली. कश्मीर के उरी में रविवार को हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 18 जवानों में से बिहार रेजिमेंट के सात जवानों का शव सोमवार की शाम भारतीय वायु सेना के विशेष विमान से जैसे ही बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुंचा वहां मौजूद लोगों की आंखें नम हो गई। इस बीच छह जवानों के शवों को एयरपोर्ट से बाहर निकाला गया जबकि गया निवासी शहीद जवान नायक सुनील कुमार विद्यार्थी का शव सेना के विमान से ही गया भेज दिया गया। एयरपोर्ट पर स्थित पुराने टर्मिनल भवन के पास शहीद जवान हवलदार अशोक कुमार सिंह भोजपुर बिहार, गणेश शंकर संत कबीर नगर, राकेश सिंह आरा कैमूर बिहार, लांस नायक आर के यादव बलिया, राजेश कुमार सिंह जौनपुर, हरेंद्र यादव गाजीपुर को वहां मौजूद आर्मी ऑफिसर्स व जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया। प्रशासनिक अधिकारियों और नेताओं ने भी श्रद्धांजलि दी।
लोगों ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की
हवाई अड्डे पर पहली बार ऐसा हुआ कि छह शहीदों का शव यहां एक साथ पहुंचा। जिसके चलते हर तरफ उदासी छाई रही और सब के चेहरे मायूस थे। शहीद जवानों का शव जब बाहर निकाला गया तो हर किसी की आंखें नम हो गई। एयरपोर्ट पर कार्यरत अधिकारी और कर्मचारी भी उदास चेहरों से शहीद जवानों के शवों को निहारते रहे। इस दौरान इलाहाबाद स्थित भारतीय सेना बेस से आये मेजर जनरल एसके सिंह, वाराणसी वायुसेना के एयर कमांडर धार सिंह, 39 जीटीसी के ब्रिगेडियर एसए रहमान, कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण, डीएम विजय किरण आनंद, सांसद रामचरित्र निषाद, एसपीआरए आशीष तिवारी, बीजेपी से जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, महेश चंद्र श्रीवास्तव, धर्मेद्र सिंह, जयनाथ मिश्रा, डॉ। अवधेश सिंह, उमेश दत्त पाठक, पूर्वाचल हज सेवा समिति के रेयाज अहमद कादरी, डॉ। अकबर अली, परवेज अहमद जोखू, अब्दुल कुद्दुस, नौशाद खान सहित दर्जनों लोगों ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।
लोगों ने शहर भर में प्रदर्शन किया
एनबीटी की खबर के मुताबिक, श्रद्धांजलि के बाद चार शहीदों के शव बीएचयू में रखने के लिए भेज दिया गया। जबकि गाजीपुर के हरेंद्र यादव और जौनपुर के राजेश कुमार सिंह का शव एंबुलेंस से लेकर सेना के जवान उनके घर को रवाना हुए। एयरपोर्ट पर आए शहीद जवानों में से चार जवान यूपी के और दो जवान बिहार के थे। उरी में आतंकी हमले में जवानों की जान जाने पर लोग काफी उग्र नजर आये। सोमवार को इसी गुस्से का इजहार करते हुए लोगों ने शहर भर में प्रदर्शन किया और हमला करने वाले आतंकियों को किसी भी सूरत में न बख्शने की बात कही। सिगरा स्थित एक मॉल के बाहर दुकानदार राजू गोगिया ने पाकिस्तानी पीएम के पुतले को पेड़ पर फांसी दी। हिन्दू युवा वाहिनी की ओर से आजाद पार्क लहुराबीर में महानगर अध्यक्ष विजय जायसवाल के नेतृत्व में लोगों ने पाकिस्तान विरोधी नारे लगाये। आतंकी हमले से नाराज वकीलों ने भी दी बनारस बार एसोसिएशन के बैनर तले विरोध दर्ज कराते हुए न्यायिक कार्य का बहिष्कार किया। बजरंग दल की ओर से उरी हमले के विरोध में प्रदर्शन किया गया। सुल्तान क्लब की तरफ से हमले की निंदा करते हुए शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। सामाजिक संस्था सुबह- ए- बनारस की तरफ से मुकेश जायसवाल के नेतृत्व में भारतेन्दु पार्क में लोगों ने कैंडल जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top