Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सवर्ण आरक्षण: भाजपा ने किया स्वागत, RJD ने लहराया झुनझुना, जानिए सभी पार्टियों की प्रतिक्रिया

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने के फैसले का भाजपा समेत कई पार्टियों ने स्वागत किया है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि इस तरह का बड़ा कदम 56 इंच के सीने वाला इंसान ही उठा सकता था।

सवर्ण आरक्षण: भाजपा ने किया स्वागत, RJD ने लहराया झुनझुना, जानिए सभी पार्टियों की प्रतिक्रिया

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने के फैसले का भाजपा समेत कई पार्टियों ने स्वागत किया है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि इस तरह का बड़ा कदम 56 इंच के सीने वाला इंसान ही उठा सकता था।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मोदी सरकार ने शिक्षा और रोजगार में देश के निर्धन वर्ग के सवर्ण बंधुओं को आरक्षण प्रदान करने का फैसला कर उन्हें बहुत बड़ा तोहफा दिया है। यह काम 56 इंच के सीने वाला इंसान ही कर सकता था।

आरक्षण पर बहस के दौरान राज्यसभा में एक अप्रत्याशित नजारा देखने को मिला जब राजद के मनोज झा ने संविधान संशोधन विधेयक पर चर्चा में भाग लेते हुए एक 'झुनझुना' दिखाया। मनोज झा ने संविधान (124वां संशोधन) विधेयक पर चर्चा में भाग लेते हुए दावा किया कि इस विधेयक के जरिए सामान्य वर्ग को महज एक झुनझुना दिखाया जा रहा है।

Reservation: इन आठ जरूरी कागजात के बिना नहीं मिलेगा सवर्ण वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण

इसके बाद मनोज झा ने अपने पास से एक झुनझुना निकाल कर दिखाया। राजद सदस्य ने कहा कि यह झुनझुना हिलता भी है और बजता भी है। किंतु सरकार आरक्षण के नाम पर जो झुनझुना दिखा रही है वह केवल हिलता है, बजता नहीं है।

यहां पढ़िए सवर्ण आरक्षण पर अन्य पार्टियों ने क्या कहा-

1. टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने राज्यसभा में आरक्षण बिल पर चर्चा के दौरान कहा भाजपा महिला आरक्षण पर कभी बात क्यों नहीं करती? इस पर बिल क्यों नहीं लाती?

2. बीजेडी सांसद प्रसन्न आचार्य बोले- बिल देरी से आया, लेकिन सही आया, लेकिन कुछ खामियां है कोर्ट से चुनौती मिल सकती है।

3. टीडीपी ने राज्यसभा में 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण बिल का समर्थन किया।

4. आरसीपी सिंह बोले- जेडीयू इस बिल के समर्थन में हैं, हम इसका स्वागत करते हैं। जेडीयू ने कहा निजी क्षेत्र में भी आरक्षण लागू किया जाए।

5. बहस के दौरान एआईएडीएमके के सांसदों ने किया विरोध, सदन से वॉकआउट किया।

6. समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि उनकी पार्टी इस बिल का समर्थन करती है। सदन में रामगोपाल यादव ने कहा कि यहां नौकरी तो मिल नहीं रही, आरक्षण का क्या करेंगे।

7. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि पिछड़ों को संरक्षण के लिए आरक्षण दिया। चुनाव के दौरान क्यों लाया गया ये बिल।

8. सदन में बहस के दौरान सीपीएम सांसद ने इस बिल को स्थगित करने की मांग की।

9. भाजपा राज्यसभा सांसद प्रभात झा ने कहा कि पीएम ने पहली बार संसद को चुमते हुए कहा था कि ये सरकार गरीबों के विकास के लिए काम करेगी।

Next Story
Share it
Top