Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

यूपी निकाय चुनाव: यूपी में फिर खिला कमल, योगी पास-विपक्ष फेल

यूपी निकाय चुनाव में भाजपा ने महापौर की 16 सीट में से 14 पर जीत दर्ज की, दो सीट बीएसपी के खाते में गई है, जबकि कांग्रेस और सपा को एक भी सीट नहीं मिली।

यूपी निकाय चुनाव: यूपी में फिर खिला कमल, योगी पास-विपक्ष फेल

भारतीय जनता पार्टी ने केंद्र के बाद उत्तर प्रदेश और अब शहर के चुनाव में अपना परचम लहराया है। भारतीय जनता पार्टी ने महापौर की 16 सीट में से 14 पर जीत दर्ज की। दो सीट पहली बार मेयर के चुनाव में उतरी बहुजन समाज पार्टी के खाते में गई है।

मथुरा में भारतीय जनता पार्टी के मुकेश आर्य बंधु तथा अयोध्या में भाजपा के ऋषिकेश उपाध्याय ने बाजी मारी है। यूपी नगर निगम चुनाव का पहला नतीजा आया। बीजेपी के मुकेश आर्य बंधु जीते, कांग्रेस के मोहन सिंह को हराया। मथुरा नगर न‍िगम चुनाव में कांग्रेस पीछे बीजेपी ने बढ़त बनाई।

फैजाबाद अयोध्या नगर निगम पर भाजपा का कब्ज़ा। अयोध्या-फैजाबाद नगर निगम का परिणाम घोषित हो गया। भाजपा प्रत्याशी ऋषिकेश उपाध्याय ने सपा के गुलशन बिंदु को 4600 वोटों के अंतर से हराया।

अयोध्या-फैजाबाद को योगी सरकार ने नगर निगम बनाया है। मेयर पद के चुनाव में सत्ता पर काबिज भाजपा को बसपा से कड़ी टक्कर मिली । मेयर पद के चुनाव में बीते वर्ष सत्ता में रही समाजवादी पार्टी के साथ ही कांग्रेस मुकाबले से बाहर हैं।

गोरखपुर में नगर निगम में महापौर पद के भाजपा प्रत्याशी सीताराम जायसवाल ने रिकार्ड जीत के साथ कब्जा जमाया। सीताराम ने सपा के राहुल गुप्ता को 75 हजार से अधिक वोट से पराजित किया।

सीताराम को 145992 और राहुल को 70169 वोट मिले। इससे पहले 2006 में भाजपा की अंजू चौधरी लगभग 59 हजार वोटों से जीती थी। इलाहाबाद में महापौर पद की प्रत्याशी अभिलाषा गुप्ता 64000 मतों से विजई घोषित

वाराणसी से भाजपा की प्रत्याशी मृदुला जायसवाल ने कांग्रेस की शालिनी को शिकस्त दी। मृदुला को 1,92188 मत मिले जबकि शालिनी को 1,13345 मत मिले। तीसरे स्थान पर समाजवादी पार्टी की साधना गुप्ता रहीं। मृदुला 77,843 मत से जीतीं। भाजपा ने यहां से लगातार चौथी बार जीत दर्ज की है।

मुरादाबाद से भारतीय जनता पार्टी के विनोद अग्रवाल ने जीत दर्ज की। विनोद ने कांग्रेस के रिजवान कुरैशी को पराजित किया। विनोद ने 21,635 मत से जीत दर्ज की। विनोद अग्रवाल को 94,677 तथा रिजवान को 73,042 वोट मिले। समाजवादी पार्टी के मोहम्मद यूसुफ तीसरे स्थान पर रहे।

पहली बार हुए मथुरा-वृन्दावन नगर निगम चुनाव में मेयर पद के भाजपा प्रत्याशी मुकेश आर्य बंधु 22 हजार 125 वोटों से जीते, उन्होंने कांग्रेस के निकटतम प्रतिद्वंद्वी मोहन सिंह को हराया।

सहारनपुर से भारतीय जनता पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी में पहले तो कांटे का संघर्ष चला। इसके बाद संजीव वालिया बड़ी बढ़त पर आ गए। संजीव वालिया ने बसपा के फजलुर्रहमान को 1996 वोटों से परजित किया।

फजलुर्रहमान आगे चल रहे थे लेकिन 14 राउंड के बाद संजीव वालिया ने बढत बनाई और वह जीत तक जारी रही। मेरठ नगर निगम के महापौर पद पर बसपा की सुनीता वर्मा ने कब्जा जमा लिया। सुनीता ने भाजपा की कांता कर्दम को करीब 25 हजार वोट से पराजित किया।

मतगणना शुरू होने से ही सुनीता आगे चल रही थीं। कुछ समय के लिए भाजपा की कांता कर्दम आगे हुईं लेकिन बाद में सुनीता ने उन्हें पछाड़ते हुए जीत दर्ज कर ली।

इसे भी पढ़ें: यूपी निकाय चुनाव: आप ने खोला खाता, तीन सीटों पर किया कब्ज़ा

अपने गढ़ में हारे योगी- राहुल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने इलाके में ही झटका लगा है। योगी आदित्यनाथ का गोरखपुर मंदिर जिस वार्ड नंबर 68 में है, वहां भाजपा हारी है। इसी तरह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में भाजपा ने जीत दर्ज की।

पीएम ने ट्वीट कर दी बधाई

चुनाव के परिणाम आने के बाद पीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा है, विकास की इस देश में फिर एक बार जीत हुई। उत्तर प्रदेश निकाय चुनावों में भव्य जीत के लिए प्रदेश की जनता को बहुत-बहुत धन्यवाद। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी और पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को ढेरों शुभकामनाएं।

गुजरात चुनाव से पहले संजीवनी

निकाय चुनावों के परिणामों के बाद न सिर्फ भाजपा में योगी का कद बढ़ा है बल्कि गुजरात के चुनावों से पहले पार्टी को एक संजीवनी भी मिल गई है। गुजरात के चुनाव के मतदान में अभी एक हफ्ता शेष है, ऐसे में कहा जा सकता है कि निकाय की विजय के बाद भाजपा अब सीएम योगी की विजय को यहां भुनाने की कोशिश कर सकती है। इसके अलावा यूपी के इन परिणामों में कांग्रेस पार्टी की हार भी भाजपा के लिए संजीवनी का काम करेगी।

Loading...
Share it
Top