Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

यूनिवर्सिटी का इस्तेमाल भारत विरोधी बैठकों के लिए नहीं किया जा सकताः जितेंद्र सिंह

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जेएनयू की घटनाओं और जम्मू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर द्वारा कथित तौर पर भगत सिंह को आतंकवादी कहने को लेकर कहा कि भारत विरोधी बैठकों के लिए यूनिवर्सिटी को एक मंच के रुप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है।

यूनिवर्सिटी का इस्तेमाल भारत विरोधी बैठकों के लिए नहीं किया जा सकताः जितेंद्र सिंह

केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने जेएनयू की घटनाओं और जम्मू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर द्वारा कथित तौर पर भगत सिंह को आतंकवादी कहने को लेकर कहा कि भारत विरोधी बैठकों के लिए यूनिवर्सिटी को एक मंच के रुप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। मैं व्यक्तिगत तौर पर स्वतंत्र विचारों और विचारधारों के पक्ष में हूं लेकिन नीचे की पंक्ति में राष्ट्रीय अखंडता के लिए प्रतिबद्धता होनी चाहिए।

बता दें कि जम्मू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर मोहम्मद ताजुद्दीन जब हाल ही में क्लास में लेक्चर दे रहे थे तो उस वक्त उन्होने क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह नहीं बल्कि आतंकी बता डाला। इसके बाद वहां मौजूद छात्रों ने इस बात पर आपत्ति जताते हुए शिकायत दर्ज कराई. शिकायत दर्ज होने के बाद घटना के जांच के आदेश दिए गए।

हालांकि बाद में प्रोफेसर ताजुद्दीन ने अपने बयान पर मांगते हुए कहा कि "मैं खुद भगत सिंह को एक क्रांतिकारी मानता हूं। वह उन लोगों में से हैं जिन्होंने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी।" उन्होंने सफाई देते हुए कहा, 'मेरे दिए गए लेक्चर को गलत तरीके से पेश किया गया है। मेरे बोले गए शब्दों की गलत व्याख्या की गई है।'

वहीं इस बीच प्रोफेसर मोहम्मद ताजुद्दीन को सस्पेंड कर दिया गया है। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कहा है कि जब तक उनके खिलाफ जांच कमेटी कोई फैसला नहीं ले लेती हैं, तब तक वह कक्षाएं नहीं ले सकते हैं।

Share it
Top