Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बजट 2018-19: बजट पर ट्वीटरिंग, जेटली का बजट भाषाओं का जिमनास्टिक

भारत में बजट वाले दिन सिर्फ़ अर्थव्यवस्था, बड़ी-बड़ी योजनाओँ, लाखों-करोड़ों रुपयों और टैक्स की बात नहीं होती। इस बार सोशल मीडिया पर लोगों की नज़र वित्तमंत्री अरुण जेटली के बजट भाषण पर थी।

बजट 2018-19: बजट पर ट्वीटरिंग, जेटली का बजट भाषाओं का जिमनास्टिक

भारत में बजट वाले दिन सिर्फ़ अर्थव्यवस्था, बड़ी-बड़ी योजनाओँ, लाखों-करोड़ों रुपयों और टैक्स की बात नहीं होती। इस बार सोशल मीडिया पर लोगों की नज़र वित्तमंत्री अरुण जेटली के बजट भाषण पर थी। अरुण जेटली ने शुरू में हिंदी में बजट पेश करने की कोशिश की लेकिन जल्द ही वो अंग्रेज़ी पर आ गए।

इसके बाद वो बारी बारी से कभी हिंदी तो कभी अंग्रेज़ी बोलते दिखे। हिंदी के कुछ शब्दों और वाक्यों को बोलने के दौरान उन्हें अटकते हुए देखा गया और सोशल मीडिया पर इस बारे में काफी चर्चा हुई।

यह भी पढ़ें- बजट 2018-19: जेटली पढ़ रहे थे बजट भाषण, देखिये विपक्ष क्या कर रहा था सदन में

कुछ लोगों को समझ में ही नहीं आया कि वो हिंदी बोल रहे हैं या संस्कृत! अंकिता अशेष ने ट्विटर पर पूछा क्या आपको अरुण जेटली की हिंदी समझ में आ रही है?

एक दूसरे ट्विटर यूज़र ने लिखा कि जेटली की बजट स्पीच में 'भाषाओं का जिमनास्टिक' देखने को मिल रहा है। उन्होंने आगे लिखा, हम बस टैक्स अनाउंसमेंट सुनना चाहते हैं। फिर वो चाहे किसी भी भाषा में हो।

1. जेटली जब हिंदी बोलते हैं तो ऐसा लगता है जैसे वो पंजाब चुनाव में अपनी हार के लिए कैंपेनिंग कर रहे हैं- आशीष

2. अरुण जेटली हिंग्लिश-विंग्लिश कर रहे हैं- भरत कुमार

3. अब हिंग्लिश को भारत की आधिकारिक घोषित कर देना चाहिए- अनिरुद्ध

ट्वीटरबाजों को इन्होंने किया आकर्षित

अरुण जेटली की हिंदी के अलावा लाल कृष्ण आडवाणी के 'स्वैग' और मुलायम सिंह यादव की 'नींद' ने लोगों का ध्यान खींचा।

आडवाणी जहां काले रंग की गोल टोपी में सजे-धजे बैठे थे वहीं मुलायम झपकी लेने में व्यस्त थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेटली को गंभीरता से सुनते नज़र आए। बीच-बीच में कुछ घोषणाओं का उन्होंने मेज थपथपाकर स्वागत भी किया।

Next Story
Share it
Top