Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बेरोजगारी खत्म करने अंतरराष्ट्रीय मंच पर जाएगी केंद्र सरकार, कई देश आए साथ

तोमर ने अमेरिकी मंत्री को बताया कि सार्वजनिक-निजी भागीदारी के तहत नए आईटीआई खोले जा रहे हैं।

बेरोजगारी खत्म करने अंतरराष्ट्रीय मंच पर जाएगी केंद्र सरकार, कई देश आए साथ
नई दिल्ली. केंद्र की मोदी सरकार ने देश में नौकरियों की बाहर लाने की दिशा में ज्यादा से ज्यादा रोजगार सृजन की योजनाओं पर जोर दिया है, जिसके लिए भारत अन्य देशों के साथ श्रम और रोजगार के क्षेत्र में सहयोग के लिए समझौते करने की नीति पर है। इसके लिए आस्ट्रेलिया के मेलबोर्न में आयोजित जी-20 की बैठक में केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने अमेरिका, कोरिया व ऑस्ट्रेलिया के श्रम व रोजगार मंत्रियों के साथ द्विपक्षीय वार्ता करके इस कदम को आगे बढ़ाया है।

श्रम व रोजगार मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि मेलबोर्न में चल रहे जी-20 श्रम मंत्री स्तरीय सम्मेलन केंद्रीय श्रम व रोजगार मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने अमेरिका, कोरिया और ऑस्ट्रेलिया के र्शम और रोजगार मंत्रियों से मुलाकात करके श्रम और रोजगार के क्षेत्र से संबंधित आपसी हित के विभिन्न मुद्दों पर विचार-विर्मश किया है। अमेरिकी श्रम मंत्री श्री थॉमस पेरेज ने विश्व के दो सबसे बड़े और प्राचीन लोकतांत्रिक देशों के बीच काफी समानताएं होने का जिक्र करते हुए कहा कि व्यावसायिक सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग से संबंधित जिस सहमति पत्र पर तीन साल पहले दोनों देशों के बीच हस्ताक्षर हुए थे वह काफी सफल रहा।

अमेरिकी श्रम मंत्री ने इस दिशा में भारत द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना करते हुए करते हुए रोजगार सृजन के क्षेत्र में चुनौतियों का सामना करने के भारत के अनुभव से सीखने की इच्छा जाहिर की। उन्होंने कौशल विकास के लिए भारत द्वारा किए जा रहे प्रयासों में पूरा सहयोग देने की बात कही। तोमर ने अमेरिकी मंत्री को बताया कि सार्वजनिक-निजी भागीदारी के तहत नए आईटीआई खोले जा रहे हैं। उद्योगों की जरूरतों के अनुसार कौशल निर्माण के लिए मंत्रालय उद्योगों के साथ विशेष सहमति पत्रों के जरिये विशेष प्रशिक्षण कोर्स तैयार कर रहा है। दोनों पक्ष आने वाले दिनों में श्रम के क्षेत्र में सहमति पत्र को आगे बढ़ाने और आपसी सहयोग का दायरा बढ़ाने पर राजी हो गए।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, भारत सरकार की आगामी योजना-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Share it
Top