Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चीन से अमेरिका ने की ''इंडो-पैसिफिक'' की पैरोकारी

आइएस को इराक और सीरिया से जल्द ही खदेड़ दिया जाएगा।

चीन से अमेरिका ने की

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एचआर मैकमास्टर चीनी धरती से 'इंडो-पैसिफिक' (हिंद और प्रशांत महासागर) सिद्धांत की पैरोकारी की है। उन्होंने इसे रचनात्मक बताया है।

मैकमास्टर ने चीन को इस्लामिक स्टेट और तालिबान के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में शामिल होने का भी दबाव डाला। यह बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पहली चीन यात्रा के दौरान आया है।

यह भी पढ़ें- गुजरात चुनाव: भाजपा को 'टेंशन' देगी शिवसेना, 75 सीटों पर लड़ने की तैयारी

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ ट्रंप की मुलाकात के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समेत कई रणनीतिक मसलों पर वार्ता की उम्मीद है। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने आइएस और तालिबान के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में चीन के शामिल होने की बात भी कही।

बकौल मैकमास्टर, उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को नियंत्रित करने में अमेरिका और दुनिया की मदद करने के अलावा बीजिंग को वैश्विक आतंकी नेटवर्क से मुकाबला करने में भी सहयोग करना चाहिए।

आइएस को इराक और सीरिया से जल्द ही खदेड़ दिया जाएगा। उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर तालिबान और हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ प्रभावी अभियान चलाने की जरूरत बताई।

यह भी पढ़ें- अब इन ग्राहकों को घर बैठे मिलेगी बैंकिग सुविधा

मैकमास्टर ने चीन के साथ खुफिया सूचनाओं के आदान-प्रदान और आतंकियों को धन मुहैया कराने वाले नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई को और दुरुस्त करने की बात कही है। ट्रंप के विमान एयरफोर्स वन के लैंड करने से पहले बीजिंग धुंध से जूझ रहा था।

चीन के पर्यावरण विभाग ने कृत्रिम तरीके से देश की राजधानी की आबो-हवा को साफ किया, ताकि अमेरिकी राष्ट्रपति स्वच्छ हवा में सांस ले सकें। इससे पहले, वायु प्रदूषण को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया था। इसका मतलब यह हुआ कि वायु प्रदूषण की स्थिति बेहद खराब थी।

Share it
Top