Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ट्रंप ने नहीं की नवाज शरीफ की तारीफ, पाक ने बोला था झूठ

ट्रंप ने कहा कि पाकिस्तान मेरी बात का गलत मतलब निकालकर भ्रम फैला रहा है।

ट्रंप ने नहीं की नवाज शरीफ की तारीफ, पाक ने बोला था झूठ
वाशिंगटन. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पोल खोल कर रख दी है। ट्रंप ने इस बात का खंडन किया है कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के साथ उनकी बातचीत तो हुई है। उन्होंने यह भी कहा है कि पाकिस्तान मेरी बात का अलग तरीके से मतलब निकालकर गलतबयानी करके दुनियाभर में भ्रम फैला रहा है।
ट्रंप की टीम ने पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश करते हुए कहा है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के साथ हुई बातचीत का गलत मतलब समझ रहे हैं या फिर उन्होंने पूरी दुनिया में भ्रम फैलाने के लिए बातचीत का इस्तेमाल कर गलतबयानी कर रहे हैं।
मुद्दे पर हुई थी बातचीत-
दरअसल, अमेरिका में राष्ट्रपति का चुनाव जीतने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने डोनाल्ड ट्रंप को बधाई देने के लिए बुधवार को फोन किया था। इस दौरान बातचीत के क्रम में ट्रंप ने नवाज शरीफ से सवाल पूछा था कि अमेरिका और पाकिस्तान भविष्य में कामकाजी संबंध कैसे मजबूत बना सकते हैं? ट्रंप की टीम का कहना है कि इस बातचीत में ट्रंप ने कहा था कि वह नवाज शरीफ के साथ मजबूत और लंबे समय तक व्यक्तिगत संबंध चाहते हैं। ट्रंप के सलाहकार का कहना है कि ट्रंप ने अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति बनने से पहले ही दोनों देशों के कहने पर भारत-पाकिस्तान के बीच विवाद सुलझाने के लिए मध्यस्थता की पेशकश की थी, लेकिन उन्होंने जोर देकर यह भी कहा था कि वह भारत-पाकिस्तान के अनुरोध करने पर ही ऐसा कोई कदम उठायेंगे।
पाकिस्तान ने जारी किया बयान-
अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बात होने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से एक बयान जारी किया गया था। इसमें यह कहा गया था कि ट्रंप ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से कहा कि आप (शरीफ) एक शानदार इंसान हैं। आप अदभुत काम कर रहे हैं, जो स्पष्ट नजर आ रहा है। मैं जल्द ही आपसे मिलने की आशा कर रहा हूं।
पाकिस्तान ने फैलाई झूठी अफवाह-
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने फोन पर ट्रंप और नवाज शरीफ की बातचीत को मनचाहे तरीके से पेश करते हुए बयान जारी किया। इसमें कहा गया कि ट्रंप ने फोन कॉल पर कहा कि ढेर सारे अवसरों से भरपूर पाकिस्तान एक अदभुत देश है। शरीफ ने ट्रंप को पाकिस्तान आमंत्रित किया। इसके जवाब में ट्रंप ने कहा कि पाक एक शानदार देश है और वह पाक आना पसंद करेंगे।
ट्रंप की टीम ने किया झूठ का पर्दाफाश-
ट्रंप की टीम का कहना है कि फोन पर हुई बातचीत का पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने जो मतलब निकाला, वह पूरी तरह गलत है। ट्रंप की टीम ने शरीफ के साथ हुई बातचीत का बिना कोई मिर्च-मसाला लगाये सीधे-सादे पेश कर दिया है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top