Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी कैबिनेट के 20 नामों का रखा प्रस्ताव

इन नामों को देखकर लगता है कि उनकी यह टीम भी खुद ट्रंप जैसी ही है।

डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी कैबिनेट के 20 नामों का रखा प्रस्ताव
X
नई दिल्ली. अमेरिका राष्ट्रपति पद चुनाव में जीच हासिल कर चुके रिपब्लिकन पार्टी के नेता डोनाल्ड ट्रंप ने कैबिनेट के 20 सदस्यों के नाम चुन लिए हैं।
इन नामों को देखकर लगता है कि उनकी यह टीम भी खुद ट्रंप जैसी ही है। ज्यादातर उम्मीदवार बुजुर्ग, गोरी नस्ल के और अमीर हैं। इन सबका मानना है कि वे जोखिम लेने वाले और डील तय करने वाले हैं। ट्रंप खुद भी अमेरिका को 'टूटा' हुआ बता चुके हैं। उनका कहना है कि राजधानी वॉशिंगटन विशेष हितों को ध्यान में रखकर चलाई जा रही है। उनका कहना है कि अब तक सरकार को ऐसे लोग चलाते आए हैं, जिनके पास सरकारी अनुभव तो काफी है, लेकिन त्याग-बलिदान की भावना नहीं है। शायद इसीलिए ट्रंप ने अपने कैबिनेट में बदलाव करने की ठानी है और ऐसे लोगों को चुना है जो कि 'बॉस' हैं।
ट्रंप द्वारा अलग-अलग एजेंसियों के प्रमुख और अपने सलाहकारों के तौर पर जिन लोगों का चुनाव किया गया है, वे बौद्धिक पृष्ठभूमि से नहीं आते हैं। पहले की सरकारें जहां ऐसे पदों पर वकीलों या शिक्षाविद को तरजीह देती थीं, वहीं ट्रंप इस परंपरा से भी परहेज करते दिख रहे हैं। ट्रंप ने अपनी टीम में कारोबारियों, बिजनस क्लास और फाइनैंस के क्षेत्र के दिग्गजों को जगह दी है। उनकी टीम में सेना के तीन रिटायर्ड जनरल्स भी हैं।
ट्रंप ने रेक्स टिलरसन को भी अपनी टीम में चुना है। ट्रंप ने रेक्स को अपना सेक्रटरी ऑफ स्टेट चुना है। रेक्स ऐक्ससॉन मोबिल के पूर्व CEO हैं। वहीं मरीन जनरल जेम्स माटिस को अपना रक्षा सचिव चुना है। जिन लोगों का ट्रंप ने चुनाव किया है, उनमें से कई अपनी-अपनी जगह बॉस रह चुके हैं। अब कैबिनेट में उन्हें ट्रंप को रिपोर्ट करनी होगी।
एक पूर्व अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि ट्रंप की कैबिनेट में लोगों के आपस में टकराने के बहुत आसार हैं। एक पूर्व अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि ट्रंप की कैबिनेट में लोगों के आपस में टकराने के बहुत आसार हैं। अधिकारी ने कहा, 'ट्रंप ने जिन लोगों को मनोनीत किया है, उन्हें नेतृत्व करने की आदत रही है। अब उन्हें सिचुएशन रूम और शायद राष्ट्रपति के दफ्तर भी जगह मिलेगी।
टीओआइ के अनुसार, इसके अलावा ट्रंप द्वारा चुने गए 20 उम्मीदवारों में से 16 गोरी नस्ल के हैं। बाकी की चार महिलाओं में एक भी नाम ऐसा नहीं है, जिनके पास टॉप-एजेंसी पद संभालने का अनुभव हो। आने वाले समय में देखना होगा कि ट्रंप अपनी टीम को कितना बेहतर बना पाते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story