Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की रिपोर्ट हास्यास्पदः ट्रंप

ट्रंप ने सीआइए के खुफिया रिपोर्ट को हास्यास्पद बताया।

राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की रिपोर्ट हास्यास्पदः ट्रंप
X
नई दिल्ली. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उन रिपोर्टों को हास्यास्पद बताया है जिसमें कहा गया है कि सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (सीआइए) ने एक खुफिया रिपोर्ट के जरिए दावा किया कि रूस ने ट्रंप को हिलेरी के खिलाफ अमेरिका का राष्ट्रपति चुनाव जीतने में मदद की है।
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप ने फॉक्स न्यूज से कहा कि उनकी जीत से निराश डेमोक्रेटिक पार्टी के लोगों द्वारा फैलाई गई बात है। इस अवसर पर ट्रंप ने अपने मंत्रिमंडल का चयन करने की प्रक्रिया और सेक्रटरी ऑफ स्टेट का चयन करने से पहले कई मिलिटरी अधिकारियों से सलाह करने का बचाव किया। हालांकि इस मौके पर ट्रंप, इंटेलिजेंस एजेंसी के चुनावों में विदेशी साइबर की दखलंदाजी की रिपोर्ट की आलोचना करते हुए पदेन राष्ट्रपति ओबामा पर कोई भी सीधा आरोप लगाने से बचते नजर आए। उन्होंने कहा, 'इस हैकिंग के बारे में कोई नहीं जानता। लेकिन अगर उन्होंने हैकिंग की है और अगर आप उन्हें नहीं पकड़ते हैं तो यह साफ है कि आप उन्हें पकड़ना ही नहीं चाहते हैं।'
गौरतलब है कि 'वॉशिंगटन पोस्ट' की रिपोर्ट के मुताबिक, रूस ने ट्रंप की खिलाफ चुनाव में खड़ी हुई हिलरी क्लिंटन की डेमोक्रेटिक नेशन कमिटी, हिलरी के कैंपेन चेयरमैन जॉन पोडेस्टा और कई अन्य के ई-मेल हैक किए। चुनाव के आखिरी महीनों में बड़ी संख्या में ई-मेल्स के लीक होने से ट्रंप और हिलरी के बीच जीत-हार का फासला कम होता गया। साइबर सिक्यॉरिटी एक्सपर्ट्स और इंटेलिजेंस ऑफिशल्स ने इन ई-मेल्स की हैकिंग में रूस का हाथ पाया है।
वहीं, सेनेटर जॉन मैकेन, लिंजी ग्राहम, चक शमर और जैक रीड ने एक वक्तव्य में कहा, 'कई सालों से विदेशी अमेरिका पर साइबर अटैक कर उसकी आर्थिक, सैनिक, आधारभूत संरचना से संबंधित जानकारियों में सेंध लगाने की कोशिश करते रहे हैं। लेकिन अब उन्होंने हमारे लोकतांत्रिक संस्थानों को निशाना बनाया है। चुनावों में रूस की दखलअंदाजी की रिपोर्ट पर अब सभी अमेरिकियों को चेत जाना चाहिए।' दूसरी ओर, राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2016 चुनाव के दौरान हुए साइबर हमलों की पूर्ण समीक्षा का आदेश दिया था। वाइट हाउस के डिप्टी प्रेस सचिव एरिक सुल्ज ने कहा था कि चुनाव अभियान में रूसी हस्तक्षेप की हद जानने के लिए संसद की ओर से बार-बार की जा रही मांग के बीच ओबामा ने इस सप्ताह के आरंभ में समीक्षा का आदेश दिया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story