Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नए साल से पहले अमेरिका ने पाकिस्तान को दिया बड़ा झटका, रोकी 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की आर्थिक मदद!

अमेरिकी सरकार पाकिस्तान को दी जाने वाले 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की आर्थिक राशि रोकने पर विचार कर रही है क्योंकि ट्रंप प्रशासन आतंकवादी संगठनों के खिलाफ पाकिस्तान द्वारा कार्रवाई ना किए जाने से असंतुष्ट है।

नए साल से पहले अमेरिका ने पाकिस्तान को दिया बड़ा झटका, रोकी 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की आर्थिक मदद!
X

अमेरिका पाकिस्तान को हर साल लाखों डॉलर की मदद करता है। लेकिन नए साल 2018 में अमेरिकी सरकार पाकिस्तान को दी जाने वाले 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की आर्थिक राशि रोकने पर विचार कर रही है।

अमेरिका ने ये बड़ा कदम इस लिए उठाया है क्योंकि ट्रंप प्रशासन के बार बार समझने के बाद भी पाकिस्तान ने अपनी जमीन पर पल रहे आतंकवादी संगठनों पर कोई कार्रवाई नहीं की है।

अमेरिकी अखबार 'न्यूयॉर्क टाइम्स' की खबर के मुताबिक अमेरिकी सरकार पाकिस्तान को दी जाने वाले 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की सहायता राशि रोकने पर विचार कर रही है।

इसे भी पढ़ें: नए नाम के साथ रिलीज होगी फिल्म 'पद्मावती', सेंसर बोर्ड ने दिखाई हरी झंडी!

पाकिस्तान को सहायता राशि ना देकर ट्रंप उन्हें आतंकवाद विरोधी अभियानों पर सहयोग करने में नाकाम रहने पर सजा की चेतावनी देंगे। ट्रंप प्रशासन में इस बात को लेकर आंतरिक बहस छिड़ी हुई है।

खबर में कहा गया है कि अमेरिका और पाकिस्तान के बीच संबंध तब से तनावपूर्ण बने हुए है जब राष्ट्रपति ने घोषणा की थी कि पाकिस्तान अराजकता, हिंसा और आतंकवाद फैलाने वाले लोगों को पनाहगाह देता है।

पाकिस्तान को वर्ष 2002 से 33 अरब डॉलर से ज्यादा की सहायता मुहैया कराने वाले अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ और अधिक कार्रवाई नहीं करता तब तक वह 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की धनराशि रोक रहा है।

इसे भी पढ़ें: सीरिया में हुआ खूनी संघर्ष, 19 नागरिक सहित 66 लोगों की मौत

ट्रंप प्रशासन और पाकिस्तान

  • इस महीने वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी इस पर फैसला लेने के लिए मिले कि धनराशि के बारे में क्या किया जाए।
  • अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि अंतिम निर्णय आगामी सप्ताहों में लिया जा सकता है।
  • अखबार की यह रिपोर्ट अमेरिकी उप राष्ट्रपति माइकल पेंस के कबुल में दिये उस बयान के कुछ दिन बाद आया है।
  • जिसमें उन्होंने कहा था कि ट्रंप प्रशासन ने पाकिस्तान को नोटिस पर रखा हुआ है।
  • पाकिस्तान ने अमेरिका को अपहृत कनाडाई-अमेरिकी परिवार से संपर्क करने से मना कर दिया था। परिवार को इसी साल छुड़ाया गया था।
  • पाक सेना ने बृहस्पतिवार को अमेरिका को उसकी सरजमीं पर सशस्त्र समूहों के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई करने की संभावना के खिलाफ चेतावनी दी थी।
  • पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने इस बात को खारिज कर दिया कि पाकिस्तान सशस्त्र समूहों से लड़ने के लिए कुछ खास नहीं कर रहा है।

अब ट्रंप प्रशासन इस बात पर गंभीरता से विचार कर रहा है कि क्या पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी नेटवर्कों के खिलाफ उसके कार्रवाई ना करने पर असंतोष के रूप में 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की सहायता राशि रोकी जाए।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story