Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तीन तलाक अध्यादेश के खिलाफ ''समस्त केरल जमीयत-उल-उलेमा'' ने SC में दायर की याचिका

तीन तलाक अध्यादेश पर एक बड़ा फैसले लेते हुए केरल के एक धार्मिक संगठन ''समस्त केरल जमीयत-उल-उलेमा'' ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है।

तीन तलाक अध्यादेश के खिलाफ

तीन तलाक अध्यादेश पर एक बड़ा फैसले लेते हुए केरल के एक धार्मिक संगठन समस्त केरल जामिया उल-उलेमा ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है।

केन्द्रीय कैबिनेट द्वारा तीन तलाक को दंडनीय अपराध बनाने के लिए मोदी सरकार द्वारा अध्यादेश को मंजूरी देने से नाराज समस्त केरल जामिया उल-उलेमा ने ये फैसला लिया है।

इससे पहले ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने भी तीन तलाक अध्यादेश पर सख्‍त नाराजगी जाहिर करते हुए कहा था कि वह बहुत जल्‍द इस मामले पर अपनी रणनीति तय करेगा।

इसे भी पढ़ें- राफेल डील पर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने, स्वास्थ्य मंत्री ने राहुल को बताया 'झूठ का शहंशाह'

आपको बता दें कि मुस्लिम महिलाओं को दिए जाने वाले तीन तलाक को दंडनीय अपराध बनाने के लिए मोदी सरकार ने इस अध्यादेश को मंजूरी दी थी।

तीन तलाक अध्यादेश को कैबिनेट की मंजूरी के बाद कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया था कि सुप्रीम कोर्ट की ओर से तीन तलाक की कुप्रथा पर पाबंदी लगाए जाने के बाद भी यह जारी है, जिसके कारण अध्यादेश लागू करने की ‘आवश्यकता' महसूस हुई।

Next Story
Top