Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुस्लिम महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, तीन तलाक के बिल को आज मिल सकती है मंजूरी!

पीएम मोदी ने तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए एक मंत्री समूह बनाया था जिसमें राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, सुष्मा स्वराज, रविशंकर प्रसाद, पीपी चौधरी और जितेंद्र सिंह मौजूद हैं।

मुस्लिम महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, तीन तलाक के बिल को आज मिल सकती है मंजूरी!

गुजरात विधानसभा चुनाव का आज दूसरा और आखरी चरण का मतदान है। अब संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने जा रहा है। इसके साथ ही तीन तलाक पर बड़ा फैसला आ सकता है। शुक्रवार को तीन तलाक को गैर-कानूनी करार देने वाले बिल को सरकार मंजूरी दे सकती है।

बिल में तीन तलाक देने पर तीन साल की जेल का प्रावधान है। इस बिल को कैबिनेट की हरी झंडी मिलने के बाद शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में कानून लाएगी। केंद्र सरकार 'द मुस्लिम वीमेन प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स इन मैरिज एक्ट' नाम का विधेयक लाएगी। ये कानून सिर्फ तीन तलाक पर ही लागू होगा।
इस कानून के आने के बाद अगर कोई पति अपनी पत्नी को तीन तलाक देगा तो वो गैर-कानूनी हो जाएगा। तीन तलाक चाहे मौखिक हो, लिखित हो या एसएमएस से दिया गया हो, सभी प्रकार अवैध होंगे। अब जो भी तीन तलाक देगा उसे तीन साल की जेल हो सकती है, साथ ही जुर्माना भी लग सकता है।
उल्लेखनीय है कि कानून बनाए जाने के बाद तीन तलाक गैर-जमानती और संज्ञेय अपराध होगा। मेजिस्ट्रेट तय करेगा कि कितना जुर्माना होगा। गौरतलब है कि पीएम मोदी ने तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए एक मंत्री समूह बनाया था जिसमें राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, सुष्मा स्वराज, रविशंकर प्रसाद, पीपी चौधरी और जितेंद्र सिंह मौजूद हैं।
Next Story
Top