logo
Breaking

तीन तलाक / जानें लोकसभा में बिल पर चर्चा के दौरान रविशंकर प्रसाद से लेकर खड़गे तक ने क्या कहा

संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा होने से पहले पक्ष और विपक्ष के बीच काफी बयानबाजी हुई। इसको लेकर विपक्षी दलों का विरोध जारी।

तीन तलाक / जानें लोकसभा में बिल पर चर्चा के दौरान रविशंकर प्रसाद से लेकर खड़गे तक ने क्या कहा
संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा होने से पहले पक्ष और विपक्ष के बीच काफी बयानबाजी हुई। इसको लेकर विपक्षी दलों का विरोध जारी।

कानून मंत्री लोकभा में तीन तलाक बिल पर बोले

एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह बिल किसी समुदाय, धर्म या मान्यता के खिलाफ नहीं है। इस कानून को महिलाओं के अधिकारों तथा न्याय के लिए लगाया गया है।
उन्होंने आगे कहा कि 20 देशों ने इस प्रथा पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। तो भारत जैसा धर्मनिरपेक्ष देश ऐसा क्यों नहीं कर सकता। अंत में कहा कि इस मुद्दे को राजनीति के मद्दे नजर ना देखें।

बिल को लेकर खड़गे की अपील

लोकभा में चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि ये बेहद महत्वपूर्ण बिल है। जिस पर काफी बहस की और अध्ययन करने की जरुरत है। ये संवैधानिक मामला है। अंत में उन्होंने कहा कि इसे संयुक्त सेलेक्ट कमेटी के पास भेजा जाना चाहिए।

टीएमसी नेता का बायन

टीएमसी नेता सुदीप बंधोपाध्याय ने तीन तलाक बिल को लेकर कहा कि हम चाहते हैं कि इस बिल को संयुक्त सेलेक्ट कमेटी के पास भेजना चाहिए। सारा विपक्ष यही चाहता है।

बीजेपी सांसद का बयान

इसी दौरान बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि तीन तलाक बिल पर विपक्ष से पूछना चाहते हैं कि पवित्र कुरान की किस सुराका में तारक-ए-बिद्दत का उल्लेख है? यह ही बनाम शी नहीं है, ये मानव अधिकारों के उल्लंघन के मुद्दे हैं।
Loading...
Share it
Top