Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जियो की शिकायत पर ट्राई ने ऑपरेटरों से मांगे कॉलड्रॉप के रिकॉर्ड

नियम के मुताबिक 1000 में 5 से ज्यादा कॉल ड्रॉप नहीं होने चाहिए।

जियो की शिकायत पर ट्राई ने ऑपरेटरों से मांगे कॉलड्रॉप के रिकॉर्ड
नई दिल्ली. कॉल ड्रॉप पर TRAI सख्त हो गई है। TRAI के चेयरमैन ने कहा कि नियम से ज्यादा कॉलड्रॉप होने पर होगी कार्रवाई। ट्राई ने सभी ऑपरेटरों से उनकी कॉल और कॉलड्रॉप के परसेंट डेटा की मांग की है। इसके बाद ट्राई अपने नियमों के मुताबिक उचित कदम उठाएगा।
आपको बता दें कि नियम के मुताबिक 1000 में 5 से ज्यादा कॉल ड्रॉप नहीं होने चाहिए। अगर इससे ज्यादा कॉल ड्रॉप होती है तो नियम के मुताबिक कार्रवाई होने का प्रावधान है। हाल ही में रिलायंस जियो ने एयरटेल पर आरोप लगाया है कि पर्याप्त इंटरकनेक्टिविटी नहीं होने से उसके 2 करोड़ कॉल ड्रॉप हुए हैं। रिलायंस जियो का ये भी कहना है कि पिछले 15 दिनों में इंटरकनेक्शन प्वाइंट में बढ़ोतरी नहीं हुई है।
ट्राई ने मांगा है सभी कंपनियों से डेटा
मौजूदा आपरेटरों और रिलायंस जियो के बीच जारी कनेक्टिविटी विवाद में सख्त रुख अपनाते हुए भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने सर्विस क्वालिटी उल्लंघन पर कार्रवाई की चेतावनी देते हुए सभी सर्विस प्रोवाइडर्स से अपने नेटवर्क में जाम (कन्जेशन) की स्थिति पर ब्योरा मांगा है।
ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने कहा था, ‘’आज हमने सभी टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स से यह पूछा है कि उनके पॉइंट आफ इंटरकनेक्शन (पीओआई) में जाम का स्तर क्या है।’’ शर्मा ने टावर एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर्स एसोएिशन के एक कार्यक्रम के मौके पर अलग से कहा कि ट्राई ने 15 से 19 सितंबर तक के आंकड़ों की मांग हैं कि हर दिन के आधार पर कितनी कॉल की गईं और इनमें से कितनी विफल रहीं।
मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस जियो ने मौजूदा दूरसंचार कंपनियों भारती एयरटेल, वोडाफोन तथा आइडिया सेल्युलर पर कॉल पूरा करने के लिए जरूरत से कम पीओआई उपलब्ध कराने का आरोप लगाया है। इससे रिलायंस जियो और अन्य नेटवर्क्‍स पर 75 से 89 प्रतिशत कॉल विफल हो रही हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top