Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हंगामे के बीच चिदंबरम ने पेश किया अंतरिम बजट, एक्साइज ड्यूटी घटाई गई

वित्त मंत्री पी. चिदंबरम आगामी लोकसभा चुनाव से पहले आज पेश करेगे अंतरिम बजट

हंगामे के बीच चिदंबरम ने पेश किया अंतरिम बजट, एक्साइज ड्यूटी घटाई गई
नई दिल्ली. वित्त मंत्री पी. चिदंबरम आगामी लोकसभा चुनाव से पहले सोमवार को बजट पेश किया। ये यूपीए-2 का चार महीने के लिए आखिरी बजट होगा। यह बजट वोट ऑन अकाउंट के रूप में संसद के पटल पर रखा गया है। हालांकि इस बजट में कोई बड़ा नीतिगत फैसला नहीं होगा। लेकिन आम चुनाव देखते हुए प्रॉडक्ट और सर्विस टैक्स की दरों में कुछ बदलाव कर सकते हैं ताकि अर्थव्यवस्था की गति को और तेज किया जा सके।
2004 और 2009 के अंतरिम बजटः 2004 में तत्कालीन वित्त मंत्री जसवंत सिंह ने अंतरिम बजट पेश करते हुए 12 पेज का भाषण पढ़ा था। 2009 में उस समय वित्त मंत्री रहे प्रणव मुखर्जी ने 18 पेज का भाषण पढ़ा था।
लाइव: ये घोषणनाएं की पी. चिदंबरम-
- देश में बन रहे मोबाइल, साबुन, टीवी, फ्रिज पर भी एक्साइज ड्यूटी घटाई गई। साथ ही छोटी कार, मोटरसाइकिल और एसयूबी सस्ती होंगी।
- राजस्व का सबसे अच्छा स्रोत टैक्स है। जीएसटी लागू न होने के लिए कौन जिम्मेदार है? डायरेक्ट टैक्स कोड़ हमने तैयार कर लिया है, इस पर लोगों से सुझाव लेने की जरूरत है।
- ब्लैक केस के 67 मामले की जानकारी मिली है: चिदंबरम
- 2016-17 तक राजकोषीय घाटा 3% लाने का लक्ष्य: चिदंबरम
- कितनों को पता है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अब दुनिया की 11वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।
- सरकारी बैंक मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। इस साल बैंकों के 8 हजार ब्रान्च खोलने की योजना। कृषि लोन पर ब्याज में 2% की छूट जारी रहेगी।
- 10 साल पहले सिर्फ 14 लाख अल्पसंख्यकों के पास बैंक अकाउंट थे, अब इसकी संख्या 42 लाख से ज्यादा है।
- एजुकेशन लोन में छूट से 9 लाख लोगों को फायदा होगा।
- वित्त मंत्री बनने के साथ ही मैंने साफ कर दिया था कि मेरा लक्ष्य राजकोषीय घाटा कम करना, निर्यात बढ़ाना और आयात घटना है।
- कृषि उत्पादों का निर्यात बढ़ा है और निवेश में ज्यादा गिरावट नहीं आई है।
- विकास के मामले में यूपीए सरकार का कोई रिकॉर्ड नहीं है। 33 सालों में सबसे ज्यादा विकास यूपीए का कार्यकाल में, हर क्षेत्र में विकास किया।
- सेना मे वन रैंक वन पेंशन योजना लागू
- इस साल बजट में गैर-योजनागत खर्च के लिए 12 लाख करोड़ से ज्यादा का प्रावधान।
- ग्रामीण विकास मंत्रालय को 82, 202 करोड़ और मानव संसाधन विकास मंत्रालय को 67,398 करोड़ रुपये मिलेंगे।
- अगले साल योजनागत खर्चे के लिए 5 लाख 55 हजार करोड़ का प्रावधान।
- 7 नए परमाणु पावर रिऐक्टर पर काम चल रहा है।
- 57 करोड़ आधार कार्ड जारी किए जा चुके हैं। 628 करोड़ डायरेक्ट बिनिफिट ट्रांसफर से कैश ट्रांसफर किए गए।
- बजट में निर्भया निधि के लिए 100 करोड़ और स्किल डिवेलपमेंट के लिए 1000 करोड़ का प्रावधान।
- तीन औद्योगिक गलियारे चेन्नई -बेंगलुरु, बेंगलुरु-मुंबई, अमृतसर-कोलकाता क्रियान्वयन के विभिन्न चरणों में।
- उत्तर-पूर्व और पहाड़ी राज्यों की सहायता के लिए 1200 करोड़।
- बजट में 100 करोड़ कम्युनिटी रेडियों को बढ़ावा देने के लिए।
- 10 साल में 3 लाख 79 किलोमीटर सड़कें बनाई गईं। टेलिकॉम और एविएशन एफडीआई की नीति उदार बनाई गई।
- चिदंबरम ने कहा कि हमने नया जमीन अधिग्रहण कानून बनाया और सबको भोजन का अधिकार सुनिश्च किया।
- 10 साल में 6.6% विकास दर रही। चीनी को नियंत्रण मुक्त किया गया और डीजल की कीमत प्रणाली सुधारी गई।
- अर्थव्यवस्था की स्थिति दो साल पहले के मुकाबले बेहतर। पिछले बजट से इस बजट तक महंगाईदर 5.02% रही।
- अर्थव्यवस्था की स्थिति दो साल पहले के मुकाबले बेहतर। पिछले बजट से इस बजट तक महंगाईदर 5.02% रही।
- 39,144 करोड़ सड़कें बनी हैं। नए रेलवे ट्रैक भी बनाए गए हैं।
- मैन्युफैक्चरिंग का हिस्सा जीडीपी में 25% करने का लक्ष्य है। इस सेक्टर में 10 साल में 10 करोड़ नौकरियां देने का लक्ष्य।
- निवेश बढ़ाने के लिए तेजी से फैसले लिए गए। 296 प्रॉजेक्ट्स को कैबिनेट कमिटी ने मंजूरी दी।
- चिदंबरम ने कहा कि कृषि उत्पादों का निर्यात बढ़ा है और निवेश में ज्यादा गिरावट नहीं आई है। वर्तमान वित्त वर्ष में कृषि विकास दर 4.6% रहने की उम्मीद।
- सरकार और आरबीआई की कोशिशों से महंगाई में कमी आई है। अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने में सभी पार्टियां सहयोग दें।
- मझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि राजकोषीय घाटा जीडीपी का 4.6 रहेगा और विदेशी मुद्रा भंडार में 1500 करोड़ डॉलर जुटेंगे।
- चिदंबरम ने कहा कि वित्त मंत्री बनने के साथ ही मैंने साफ कर दिया था कि मेरा लक्ष्य राजकोषीय घाटा कम करना, निर्यात बढ़ाना और आयात घटना है।
- तेलंगाना पर हंगामे की वजह से चिदंबरम ने बजट का भाषण बीच में रोका। स्पीकर मीरा कुमार कर रही सांसदों से शांत रहने की अपील।
- चिदंबरम ने कहा- दुनिया के आर्थिक संकट से भारत अछूता नहीं है। दुनिया में मंदी का भारत पर भी असर। चीन, यूरोप समेत कई देशों की विकास दर घटी है।
- वित्त मंत्री ने अंतरिम बजट पेश करना शुरू किया। लोकसभा में भारी हंगामा।
- शोर-शराबे के बीच सदन की कारवाई शुरु। अंतरिम बजट पेश करने वाले हैं वित्त मंत्री।
- अगर लोकसभा की कार्यवाही हंगामे के कारण बाधित होती है, तो चिदंबरम अपना बजट भाषण किसी टीवी पर पढ़ सकते हैं: कमलनाथ
- अंतरिम बजट से ठीक पहले सेंसेक्स में उछाल, 20 हजार के पार पहुंचा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, क्या- क्या घोषणा की चिदंबरम-

Next Story
Top