Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोदी के तीन साल: पढ़िए भाजपा के चुनावी वादों की रिपोर्ट

बीते तीन सालों में जॉब क्रिएशन में मोदी सरकार का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है।

मोदी के तीन साल: पढ़िए भाजपा के चुनावी वादों की रिपोर्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार में तीन साल पूरे करने वाले हैं, जिसे देखते हुए अच्छे दिन के अपने वादों को पूरा करने पर उनका जोर है। 2014 में चुनाव प्रचार के दौरान मोदी ने युवाओं को 1 करोड़ रोजगार के अवसर देने का वादा किया था।

हालांकि, बीते तीन सालों में जॉब क्रिएशन में मोदी सरकार का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। पीएम मोदी ने निर्देश दिया है कि कैबिनेट को भेजे जाने वाले सभी प्रस्तावों में यह जानकारी जरूर दी जाए कि उन प्रस्तावों पर अमल करने से रोजगार के कितने मौके बनेंगे।

वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि जिस भी प्रस्ताव के साथ कुछ खर्च जुड़ा होगा, उससे देश में जॉब क्रिएशन होना ही चाहिए और ऐसे प्रस्ताव के साथ जॉब्स एस्टिमेट दिया जाना चाहिए। सीतारमण ने बताया, ‘जब भी कोई प्रस्ताव चर्चा के लिए आता है तो प्रधानमंत्री कैबिनेट मीटिंग में पूछते हैं कि रोजगार के कितने मौके बनेंगे?

क्रिसिल की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 15 लाख से ज्यादा लोग हर महीने देश के जॉब मार्केट में रोजगार तलाशने आते हैं। वहीं, मानव श्रम पर निर्भरता घटाने वाले ऑटोमेशन की वजह से स्थिति गंभीर होती जा रही है। मोदी ने इससे पहले कहा था, हमरा देश युवाओं का है। हमारी आबादी में 65 प्रतिशत हिस्सा 35 साल से कम लोगों का है। भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र हैंं।

Next Story
Top