Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस वजह से चीन जा सकते हैं तीन मंत्री

वित्त मंत्री अरुण जेटली, वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण और बिजली मंत्री पीयूष गोयल भी ब्रिक्स की मंत्री स्तर की बैठक में भाग लेने के लिए जून और जुलाई में चीन जा सकते हैं।

इस वजह से चीन जा सकते हैं तीन मंत्री

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज समेत तीन भारतीय मंत्री ब्रिक्स सम्मेलन का हिस्सा लेने के लिए चीन जा सकते हैं। ये सम्मेलन चीन के जियामेन शहर में होना है।

उल्लेखनीय है कि चीन ने हाल ही में भारत को ये चेतावनी दी थी कि दलाई लामा के अरूणाचल प्रदेश के दौरे के बाद भारत और चीन के संबंधों में खटास बढ़ जाएगी। इसी चेतावनी के बीच भारत के तीन मंत्री चीन दौरे पर जाएंगे।
ब्रिक्स की ऑफिशियल वेबसाइट पर ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के मंत्रियों द्वारा बैठकों की विस्तृत कार्यक्रम की सूची जारी कर दी गई है। एक सदस्य के रूप में, भारत की जून से मंत्री स्तर पर सभी बैठकों में भाग लेने की उम्मीद है।
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सितंबर में अंतिम सम्मेलन में भाग ले सकते हैं। इसी क्रम में वित्त मंत्री अरुण जेटली, वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण और बिजली मंत्री पीयूष गोयल भी ब्रिक्स की मंत्री स्तर की बैठक में भाग लेने के लिए जून और जुलाई में चीन जा सकते हैं।
तीनों मंत्री राष्ट्रीय विकास बैंक की बैठक में भी भाग लेंगे। एनएसए अजीत डोवाल भी ब्रिक्स की सुरक्षा संबंधी बैठक में भाग ले सकते हैं।
उल्लेखनीय है कि चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा था कि चीन चाहता है कि भारत मई में होने वाली वन बेल्ट वन रोड की अंतर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का हिस्सा बने।
उन्होनें कहा था कि हम भारतीय पक्ष से तिब्बत से संबंधित मुद्दों पर अपनी प्रतिबद्धता का पालन करने और अपनी सहमति लागू करने के लिए आग्रह करते हैं कि वे चीन के हितों को कमजोर करने के लिए दलाई लामा का उपयोग न करें।
Next Story
Top