Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये 10 काम प्रधानमंत्री के तौर पर सिर्फ पीएम मोदी ने ही किए

पीएम मोदी ने कई ऐसे काम कर डाले हैं जो अभी तक किसी दूसरी सरकारों ने नहीं किया है।

ये 10 काम प्रधानमंत्री के तौर पर सिर्फ पीएम मोदी ने ही किए
नई दिल्ली. भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अंदाज अन्य प्रधानमंत्रीयों की तुलना में बिल्कुल ही अलग है। वह जो भी काम करते हैं वो बेहद खास होता है। उनके बात करने का तरीका, लोगों को अपनी बातों से प्रभावित कर देना, लोगों के बीच अपनी बात रखने का अंदाज सभी कुछ बेहद जुदा होता है। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले कई वादे किए जिसे वे पूरा करने की कवायद में लगे हुए हैं। अपने सपनो का भारत बनाने के लिए मोदी लोगों से सीधे जुड़ना पसंद करते हैं। पीएम मोदी लोगों से सीधे संवाद की कोशिश करते हैं। पीएम अपनी बातों को जनता को बताना चाहते हैं, वो चाहते हैं कि भारत देश एक सुखी समृद्ध देश बने। उनकी मंशा होती है कि वह लोगो से जाकर मिलें उनके बीच अपनी बातों को रखें।
पीएम मोदी ने दो साल की सरकार में कई ऐसे काम कर डाले हैं जो अभी तक किसी दूसरी सरकारों ने नहीं किया है। मोदी ने विदेश दौरों पर अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है जिससे विदेश में भी उनके नाम का डंका बजने लगा है। मोदी का भारत मे आए विदेशी मेहमानों के स्वागत का अंदाज भी काफी जुदा होता है। देश के प्रधानमंत्री का पद संभालने के बाद से अब तक पीएम मोदी ने लीक से हटकर कई फैसले लिए हैं। लगभग सभी क्षेत्रों में प्रधानमंत्री मोदी का रवैया बेहद जुदा होता है।
एक नजर प्रधानमंत्री मोदी के 10 ऐसे कामों पर जो प्रधानमंत्री मोदी ने अपने देश के पहले प्रधानमंत्री के रूप में किया...
शपथ ग्रहण में सार्क देशों के राष्ट्राध्यक्षों को दिया न्यौता
नरेंद्र मोदी ने 26 मई, 2014 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के एक मात्र ऐसे पीएम हैं जिन्होंने अपने शपथ ग्रहण समारोह में सार्क देशों के प्रमुखों को आमंत्रित किया। इससे पहले किसी प्रधानमंत्री ने ऐसा कार्य नहीं किया था। ये पहली बार हुआ था जब किसी प्रधानमंत्री ने इस तरह से दूसरे देशों के राष्ट्राध्यक्षों को शपथ ग्रहण में आमंत्रित किया। इससे उनकी दूरदर्शिता का पता चलता है। इस कदम से पीएम मोदी की विदेश नीति का पता चलता है कि कैसे उन्होंने अपने शपथ ग्रहण के जरिए ही दूसरे देशों से और खासकर अपने पड़ोसी देशों से दोस्ती की नई शुरूआत की नींव खड़ी करनी शुरू की।
'मन की बात' के जरिए लोगों से किया सीधा संवाद
प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी जनता से सीधे जुड़ना चाहते थे और इसके लिए उन्होंने रेडियो को माध्यम बनाया और उसपर 'मन की बात' नाम से एक प्रोग्राम चलाया जिसमें उन्होंने जनता से सीधे जुड़ने को महत्व दिया। पीएम मोदी ने रेडियो पर 'मन की बात' के जरिए जनता से सीधा संवाद स्थापित करने का फैसला लिया। लोगों से इस तरह अपनी बात रखने का फैसला करने वाले मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं।
पीएम मोदी ने शुरू किया 'स्वच्छ भारत अभियान'
पीएम मोदी ने देश को साफ-सुथरा रखने के लिए एक मुहिम की शुरुआत की जिसे नाम दिया 'स्वच्छ भारत अभियान'। मोदी ने देश को साफ-सुथरा रखने की मुहिम को मजबूती से जनता के सामने रखा। उन्होंने 'स्वच्छ भारत अभियान' की शुरूआत स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से की। पीएम मोदी ने इस मुहिम को सफल बनाने के लिए लोगों से देश को स्वच्छ रखने की अपील भी की और खुद अपने हाथों में झाड़ू लेकर लोगों को इस मुहिम में आगे आने के लिए प्रोत्साहित किया। नरेंद्र मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने 'स्वच्छ भारत अभियान' को मुहिम के तौर पर शुरू किया।
दीपावली पर जवानों के बीच सियाचीन पहुंचने वाले पहले पीएम
नरेंद्र मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने दीपावली के मौके पर सियाचिन जाकर जवानों के साथ ये खास त्योहार मनाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस खास मौके पर एक ट्वीट करके बहादुर जवानों और अधिकारियों को बधाई भी दी। प्रधानमंत्री मोदी का अंदाज उनके इसकदम से समझा जा सकता है।
अमेरिकी राष्ट्रपति को पहली बार भिजवाया गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि का न्यौता
पीएम मोदी ने गणतंत्र दिवस के मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को बतौर मुख्य अतिथि न्योता भिजवाया। ऐसा करने वाले मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं। आम तौर पर गणतंत्र दिवस पर दूसरे देशों के राष्ट्राध्यक्षों को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया जाता रहा है। लेकिन जिस तरह से प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका जैसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति को न्योता भिजवाया, ये एक अच्छी पहल थी। इतना ही नहीं ओबामा ने प्रधानमंत्री मोदी का आमंत्रण स्वीकार करते हुए खास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए दिल्ली भी आए।
चीनी राष्ट्रपति का स्वागत किया दिल्ली से बाहर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और खास काम पहली बार अपने कार्यकाल में किया। किसी भी दूसरे राष्ट्राध्यक्ष का दिल्ली से बाहर स्वागत करने वाले नरेंद्र मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं। पीएम मोदी ने चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग के भारत दौरे के दौरान उनका स्वागत दिल्ली में नहीं करके अहमदाबाद में किया। ऐसा पहली बार हुआ जब किसी राष्ट्राध्यक्ष का दिल्ली से बाहर स्वागत किया गया।
पहली बार संसद पहुंचने पर पीएम मोदी ने सीढ़ियों को किया प्रणाम
प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार जब नरेंद्र मोदी संसद पहुंचे तो उन्होंने संसद में प्रवेश से पहले सीढ़ियों को झुककर प्रणाम किया। ऐसा करने वाले नरेंद्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं। प्रधानमंत्री मोदी का ये अंदाज सभी ने देखा। ये अपने आप में पहली बार हुआ था जब किसी प्रधानमंत्री ने इस तरह से संसद एंट्री ली हो।
मंगोलिया का दौरा करने वाले पहले प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान मंगोलिया का दौरा किया। वहां का दौरा करने वाले नरेंद्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं। प्रधानमंत्री मोदी का मंगोलिया दौरा इसलिए भी अहम था क्योंकि मध्य एशिया में तेल और गैस का अकूत भंडार है। अगर उनसे संबंध मजबूत होते हैं इससे भारत को फायदे की ज्यादा संभावना है।
ब्रिटिश संसद को संबोधित करने वाले पहले प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रिटिश संसद को संबोधित किया। ऐसा करने वाले वो देश के पहले प्रधानमंत्री हैं।
जिस समय ब्रिटिश संसद में उनका संबोधन चल रहा था ब्रिटिश सांसद उन्हें बड़े गौर से सुन रहे थे।
सऊदी अरब में महिला उद्यमियों से मोदी ने की थी मुलाकात
नरेंद्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री और दुनिया के पहले विदेशी अतिथि हैं जिन्होंने सऊदी अरब में महिला उद्यमियों से मुलाकात की है। प्रधानमंत्री मोदी का ये अंदाज दिखाता है कि वह देश के विकास को लेकर कितने सक्रिय हैं। उन्होंने देश में निवेश को बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास किए। पीएम मोदी ने भारत को एक ब्रांड के तौर पर पेश किया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top