Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

समुद्र के रास्ते दुनिया फतह करने निकलेंगी नौसेना की ये 6 जाबांज महिलाएं

इसका आगाज बल के आईएनएसवी तारिणी नामक जलपोत के साथ गोवा राज्य से होगी।

समुद्र के रास्ते दुनिया फतह करने निकलेंगी नौसेना की ये 6 जाबांज महिलाएं

समुद्र के रास्ते दुनिया का चक्कर लगाने का ख्वाब पूरा करने के लिए नौसेना की 6 जाबांज महिलाओं का एक दल 5 सितंबर से अपनी यात्रा की शुरूआत करेगा। इसका आगाज बल के आईएनएसवी तारिणी नामक जलपोत के साथ देश के पश्चिमी तट पर स्थित गोवा राज्य से होगी।

इसका समापन अगले वर्ष मार्च 2018 में गोवा में ही होगा। इस दौरान यह महिलाएं कुल 164 दिन समुद्र में गुजारेंगी। यहां गुरुवार को नौसेना द्वारा आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में तारिणी के चालक दल की मुखिया व संचालक लेफ्टिनेंट़ कमांडर वर्तिका जोशी ने कहा कि नौसेना ने इसे नाविका सागर परिक्रमा का नाम दिया है।

इसे भी पढ़े:- भारत सरकार ने 6 अपाचे हेलिकॉप्टर खरीद को दी मंजूरी

समुद्र में इस तरह से यात्रा करना अपने आप एक चुनौतीपूर्ण लेकिन अनोखा अनुभव होगा। इससे पहले ऐसी यात्राओं को करने के लिए हमने कड़ी ट्रेनिंग ली है। चार साल पहले जब मुझे इस अनुभव को जीने के लिए नौसेना की ओर से अवसर दिया गया।

तो लगा कि मेरे सपनों को पंख लग गए हैं। महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी यह यात्रा मील का पत्थर साबित होगी। वर्तिका का कहना है कि समुद्री मार्ग में आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए वह और उनका दल पूरी तरह से प्रशिक्षित है।

इस परियोजना की शुरूआत 2007 में नौसेना के दो अधिकारियों वाइस एडमिरल मनोहर अवाती (सेवानिवृत) और कैप्टन दिलीप धोंड़े (सेवानिवृत) द्वारा की गई थी। गौरतलब है कि बुधवार को इस दल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की थी।

Next Story
Share it
Top