Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

स्वच्छ भारत अभियान के लिए राज्यों को आदेश, प्रधानमंत्री भी करेंगे दो अक्टूबर को सफाई

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से राज्यों को सफाई अभियान को तेजी से चलाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

स्वच्छ भारत अभियान के लिए राज्यों को आदेश, प्रधानमंत्री भी करेंगे दो अक्टूबर को सफाई
नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार के महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान में राज्यों को भी हिस्सा बनने के लिए केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को फरमान जारी किया है कि वे अपने-अपने राज्यों के कर्मचारियों को प्रेरित करके सफाई सुनिश्चित करने के लिए निर्देश जारी करें।
प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री एवं कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मामलों के राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने यह जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से राज्यों को इस अभियान को तेजी से चलाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। डा. जितेन्द्र सिंह ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान में हिस्सा लेने के लिए कार्मिक विभाग के सचिव ने सभी राज्य सरकारों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखा है, जिसमें राज्य में कर्मचारियों का सफाई अभियान के प्रति प्रेरित करने को कहा गया है।
वहीं यह भी अनुरोध कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग से जुड़े विभिन्न विभागों जैसे केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई), कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), मसूरी का लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी (एलबीएसएनएए), सचिवालय प्रशिक्षण और प्रबंधन संस्थान (आईएसटीएम) और संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) से भी किया गया है। नार्थ ब्लॉक में अपने कार्यालय के छह नंबर गेट पर स्वच्छ भारत मिशन में हिस्सा लेने वाले सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार के सभी कर्मचारी दो अक्तूबर को स्वच्छता मिशन में हिस्सा लेंगे। सिंह ने इस कवायद के तहत अपने तल की सफाई भी की।
प्रधानमंत्री के कदम से कोई परिणाम आएगा या नहीं इसके बारे में जितेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रतीकात्मकता का भी महत्व है क्योंकि इससे दूसरों को प्रेरणा मिलती है। प्रधानमंत्री दो अक्तूबर को अभियान की शुरूआत करेंगे। उन्होंने बताया कि साउथ ब्लाक में 26 सितम्बर से ही प्रधानमंत्री के मुख्य सचिव नृपेन्द्र मिर्श की अगुवाई में सफाई अभियान चलाया जा रहा है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, गंदगी देखकर भड़के रविशंकर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Share it
Top