Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत के ये शहर हैं बिजली चोरी में नंबर वन

बिजली चोरी के मामले में बिहार और झारखंड अव्वल दर्जे पर हैं।

भारत के ये शहर हैं बिजली चोरी में नंबर वन
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2022 तक पूरे देश में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने का सपना दिखा रहे हैं। इसके लिए सरकार ने कई योजनाएं भी शुरू कर दी हैं। लेकिन सरकार के लिए बिजली चोरी रोकना बहुत बड़ी चुनौती है। देश में शहरों और कस्बों में बिजली चोरी की संमस्या बढ़ती ही जा रही है।
देश में ऐसे चार क्षेत्र हैं जहां 90 फीसदी से भी ज्यादा बिजली चोरी हो रही है। जिसे तकनीकी भाषा में एग्रीग्रेट टेक्निकल एंड कमर्शियल (एटीएंडसी) लॉस कहा जाता है। केंद्र और राज्य सरकारों के बीच उज्जवल डिस्कॉम योजना (उदय) के तहत किए गए एक एग्रीमेंट में इन सभी क्षेत्रों के नाम उल्लेख किए गए हैं-
बिजली चोरी में उत्तर-भारत के इन शहरों के नाम टॉप पर हैं-
बिहार और झारखंड नबर वन- एग्रीमेंट के मुताबिक बिहार और झाखंड के क्षेत्रों में ज्यादा बिजली चोरी हो रही है। यहां के शहरों में 90 फीसदी से अधिक बिजली चोरी हो रही है। वहीं सबसे अधिक 95.5 बिजली चोरी बिहार के जहानाबाद में पाई गई है। इसके बाद दूसरे नंबर पर झारखण्ड का शहर लातेहार है जहां एटीएंडसी लॉस 92.35 पाया गया है। तीसरे नंबर पर झारखांड का ही शहर गड़वा है तो वहीं बिहार का ही शेरघाटी भी बिजली चोरी में काफी आगे है।
उत्तर-प्रदेश भी नहीं है पीछे-
बिजली चोरी के मामले में बिहार और झारखंड अगर अव्वल दर्जे पर है तो वहीं उत्तर-प्रदेश में भी कुछ शहर बिजली चोरी के लिए सबसे आगे हैं। यूपी में करीब 75 फीसदी से ज्यादा बिजली चोरी हो रही है। इनमें बलिया और झांसी जिले का मऊरानीपुर शामिल है, जहां करीब 83 से 76 फीसदी बिजली चोरी हो रही है।
मध्य प्रदेश- यूं तो मध्य प्रदेश का एटीएंडसी लॉस 26.27 फीसदी है लेकिन राज्य की राजधानी भोपाल के मोरेना में 78 फीसदी बिजली चोरी हो रही है, जबकि गोहाद में 73.47 फीसदी बिजली चोरी बताई गई है।
जानें अन्य राज्यों का हाल- हरियाणा, गुजरात और राजस्थान जैसे राज्यों बिजली चोरी के मामलें हल्के-फुल्के नहीं हैं। बल्कि यहां भी कई इलाकों में खुलेआम बिजली चोरी हो रही है। हरियाणा के नूंह और झज्जर में करीब 64.46 से 47 फीसदी तक की बिजली चोरी हो रही है। वही राजस्थान के डीग में 54.2 और नागौर 42.4 फीसदी बिजली चोरी दर्ज की गई है। गुजरात के ऊना में 47.57 फीसदी और जसदान में 46.64 बिजली चोरी होती है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top