Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान: मंदिर के लिए जमीन आवंटन पर लगी मुहर

यह फैसला हिंदुओं की बहुप्रतीक्षित मांगों के मद्देनजर लिया गया है।

पाकिस्तान: मंदिर के लिए जमीन आवंटन पर लगी मुहर
नई दिल्ली. पाकिस्तान की राजधानी में अधिकारियों ने अपने तरह के पहले फैसले में हिंदू मंदिर, सामुदायिक केंद्र और श्मशान भूमि के लिए जमीन आवंटित की है। यह फैसला हिंदुओं की बहुप्रतीक्षित मांगों के मद्देनजर लिया गया है।
कैपिटल डिवेलपमेंट अथॉरिटी यानी सीडीए ने मंदिर, सामुदायिक केंद्र और श्मशान के लिए जमीन आवंटन किया है। यह अथॉरिटी इस्लामाबाद में विकास और नागरिक सुविधाओं की पूर्ति के लिए जिम्मेदार है। ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट के मुताबिक, सीडीए ने राजधानी के सेक्टर एच-9 में हिंदू मंदिर, सामुदायिक केंद्र और श्मशान भूमि के निर्माण के लिए सेक्टर एच-9 में आधा एकड़ भूखंड के आवंटन को अपनी मंजूरी दी।
समाचार पत्र के मुताबिक, ‘यह हिंदू समुदाय की पुरानी मांग रही है, जो आखिरकार पूरी हो गई।’ इस्लामाबाद में करीब 800 हिंदू रहते हैं और यहां मंदिर नहीं होने की वजह से उन्हें दिवाली आदि धार्मिक त्योहार अपने घरों में ही मनाने पड़ते हैं। शहर में श्मशान के अभाव में शवों को रावलपिंडी या अपने गृह शहर तक लेकर जाना पड़ता है।
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, मंदिर के लिए आवंटित की गई जमीन बुद्धिस्ट सोसायटी को मुहैया कराई गई जमीन के नजदीक है। पाकिस्तान की कुल आबादी में 2 फीसदी हिंदू हैं और इनमें से ज्यादातर सिंध प्रांत में रहते हैं। पाकिस्तान में 1500 वर्ष पुराना हनुमान जी का पंचमुखी मंदिर भी है, जहां जाकर हिंदू पूजा—अर्चना करते हैं। इस्लामाबाद और राव​लपिंडी की बात करें तो यहां सदार में कृष्ण मंदिर है। यहां के इस्लामकोट में एकमात्र राम मंदिर है। बलूचिस्तान में हिंगलाज माता का भी मंंदिर है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top