Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: टीआरएस, कांग्रेस का दावा, लड़ाई हमारे बीच, भाजपा परिदृश्य में नहीं

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए 7 दिसंबर 2018 को 119 सीटों पर मदतान होगा। इस बीच तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस और कांग्रेस नीत विपक्षी गठबंधन ने दावा किया है कि उसके बीच सीधी लड़ाई होगी और भाजपा समूचे परिदृश्य में कहीं नहीं है।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: टीआरएस, कांग्रेस का दावा, लड़ाई हमारे बीच, भाजपा परिदृश्य में नहीं

हैदराबाद. तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए 7 दिसंबर 2018 को 119 सीटों पर मदतान होगा। इस बीच तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस और कांग्रेस नीत विपक्षी गठबंधन ने दावा किया है कि उसके बीच सीधी लड़ाई होगी और भाजपा समूचे परिदृश्य में कहीं नहीं है।

वहीं दूसरी तरफ, भगवा पार्टी का कहना है कि तेलंगाना में खंडित जनादेश होगा और संकेत है कि वह किंगमेकर के तौर पर उभरेगी। कांग्रेस के तेलंगाना मामलों के प्रभारी आर सी खुंटिया ने कहा कि भाजपा के पास (भंग विधानसभा में) पांच सीटें थी। इस बार यह घटकर एक या दो रह जाएंगी।

तेलंगाना राष्ट्र समिति के सुप्रीमो के चंद्रशेखर राव के बेटे और कार्यवाहक सरकार में अहम मंत्री के टी रामा राव की भी यही राय है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमारी मुख्य प्रतिद्वंद्वी है। भाजपा का तेलंगाना में अस्तित्व नहीं है।

रामा राव ने दावा किया कि (राज्य में 119 में से) 100 से ज्यादा सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो जाएगी और भंग विधानसभा के एक भी सदस्य फिर से सदन में नहीं आ पाएंगे। हालांकि, भाजपा स्थिति को दूसरे तरीके से देख रही है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जी वी एल नरसिंह राव ने कहा कि हमें छुपा रूस्तम माना जा रहा है। हमारी संभावनाओं से हमें कम आंका गया है। हमारा मानना है कि भाजपा तेलंगाना में हैरान करेगी और सकारात्मक नतीजे लेकर आएगी।

Next Story
Share it
Top