Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: कांग्रेस ने 10 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (कांग्रेस) ने 10 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए 119 सीटों पर 7 दिसंबर 2018 को वोट डाले जाएंगे।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: कांग्रेस ने 10 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (कांग्रेस) ने 10 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए 119 सीटों पर 7 दिसंबर 2018 को वोट डाले जाएंगे।

जानिए किसको कहां से मिला टिकट

खानपुर सीट- रमेश राठौड़

येलारेड्डी- जाजला सुरेन्द्र

धर्मपुरी- अदलूरी लक्ष्मण कुमार

सिरसीला- के के महेन्द्र रेड्डी

खेरताबाद- डा. श्रवण डासोजू

जुबली हिल्स- पी विष्णुवर्धन रेड्डी

शादनगर- सी प्रताप रेड्डी

भुपईपल्ले- गन्द्रा वेंकट रामाना रेड्डी

पलेर- कंडला उपेन्द्र रेड्डी

मेदचल- किचननगरी लक्ष्मा रेड्डी

आपको बता दें कि आगामी तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची की, टिकट पाने में असफल रहे आकांक्षियों की ओर से तीखी आलोचना की गई है।

कांग्रेस ने 119 सदस्यीय विधानसभा के लिए सात दिसम्बर को होने वाले चुनाव के वास्ते सोमवार देर रात 65 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। तेलंगाना के लिए पार्टी मामलों के प्रभारी आर सी खुंटिया ने मंगलवार को कहा कि बाकी सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा 15 नवम्बर तक की जाएगी। लेकिन पार्टी ने एक दिन पहले ही लिस्ट जारी कर दी।

हालांकि टिकट प्राप्त करने में असफल रहे कुछ आकांक्षियों ने सार्वजनिक रूप से अपनी निराशा जतायी। हैदराबाद में सेरीलिंगमपल्ली सीट से पूर्व विधायक बिकशापति यादव निराश थे क्योंकि उनकी सीट कांग्रेस नीत गठबंधन की सहयोगी पार्टी तेदेपा को आवंटित कर दी गई है।

उन्होंने कहा कि वह विधानसभा क्षेत्र में पदयात्रा कर चुके थे। उन्होंने सवाल किया कि पार्टी के लिए काम करने के लिए क्या यह इनाम मिलता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहले कहा था कि चुनाव के समय ‘‘पैराशुट से उतरने वालों' को टिकट नहीं दिया जाएगा लेकिन ‘‘अब क्या हुआ।' प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रह चुके पूर्व मंत्री पी. लक्ष्मैया दिल्ली रवाना हुए क्योंकि उनका नाम पहली सूची में नहीं था।

पिछड़े वर्ग के प्रमुख नेता आर कृष्णैया ने कांग्रेस की तीखी आलोचना की और उस पर पिछड़े वर्ग से आने वालों को पर्याप्त सीटें नहीं देने का आरोप लगाया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि टीआरएस ने भी पिछड़े वर्गों से न्याय नहीं किया। खुंटिया ने यद्यपि कहा कि कांग्रेस पिछड़े वर्गों को टीआरएस से अधिक सीटें देगी।

उन्होंने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि पूरी सूची, उनके विचार से परसों (15 नवम्कर) आएगी। कांग्रेस महागठबंधन का नेतृत्व कर रही है जिसमें तेदेपा, भाकपा और तेलंगाना जन समिति (टीजेएस) अन्य सहयोगी पार्टियां हैं। कांग्रेस ने अपने सहयोगी दलों के लिए 25 सीटें छोड़ने का निर्णय किया है जिसमें तेदेपा के लिए 14, टीजेएस के लिए आठ और भाकपा के लिए तीन सीटें हैं।

Next Story
Share it
Top