Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: राहुल ने KCR पर साधा निशाना, कहा- चार साल में 4500 किसानों ने की खुदकुशी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को निशाना बनाते हुए शनिवार को आरोप लगाया कि तेलंगाना में बीते चार सालों के दौरान 4,500 किसानों ने खुदकुशी की।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018: राहुल ने KCR पर साधा निशाना, कहा- चार साल में 4500 किसानों ने की खुदकुशी
X

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को निशाना बनाते हुए शनिवार को आरोप लगाया कि तेलंगाना में बीते चार सालों के दौरान 4,500 किसानों ने खुदकुशी की। उन्होंने यह भी दावा किया कि प्रदेश दो लाख करोड़ के कर्ज में घिरा है।

तेलंगाना में सात दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिये प्रचार के तहत एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि केसीआर राव ने किसानों और उनकी समस्याओं की अनदेखी की लेकिन जनता के 300 करोड़ रूपये प्रदेश की राजधानी में राजसी बंगले के निर्माण पर किया।

वह मुख्यमंत्री आवास प्रगति भवन के संदर्भ में बोल रहे थे। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केसीआर में दोस्ती है और राव भाजपा के किसी भी फैसले का समर्थन करते हैं।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018: भाजपा को मात देने के लिए JDU ने बनाया ये मास्टर प्लान

राहुल गांधी ने कहा कि अब मोदी की मदद करने में केसीआर के साथ एमआईएम भी शामिल हो गई है। उन्होंने इस बारे में और कुछ नहीं कहा।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना राज्य के गठन में किसानों ने अहम भूमिका निभाई है। उसी तेलंगाना में बीते चार सालों में 4,500 किसानों ने खुदकुशी की। समर्थन मूल्य की मांग कर रहे किसानों को राज्य में हथकड़ी लगाई गई।

राहुल गांधी ने कहा कि केसीआर ने प्रदेश को कर्ज में धकेल दिया। तेलंगाना पर अब दो लाख करोड़ का कर्ज है। तेलंगाना में प्रत्येक परिवार पर 2.60 लाख रूपये का कर्ज है। तेलंगाना के हर नागरिक के सिर पर 60 हजार रूपये का कर्ज बोझ है।

इसे भी पढ़ें- Amritsar Train Accident: बीजेपी ने नवजोत कौर सिद्धु और दशहरा कार्यक्रम आयोजकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

राहुल ने आरोप लगाया कि केसीआर निजामाबाद में हल्दी बोर्ड की स्थापना करने के लिये केंद्र पर दबाव डालने में भी विफल रहे। मोदी और केसीआर को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि दोनों ही नेता परियोजनाओं को रीडिजाइनिंग के नाम पर भ्रष्टाचार मे लगे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि केसीआर तेलंगाना में भाजपा का समर्थन कर रहे हैं। भाजपा द्वारा (केंद्र में) जो भी नीतिगत फैसला लिया जाता है, केसीआर उसका समर्थन करते हैं और उसके साथ खड़े रहते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी ने नोटबंदी की घोषणा की और आपकी जेब से रूपये निकालकर उसे नीरव मोदी, ललित मोदी और विजय माल्या व अनिल अंबानी को दे दिया। अब केसीआर के साथ, एमआईएम भी मोदी का समर्थन कर रही है।

राहुल गांधी ने कहा कि प्रदेश में सत्ता में आते ही एक साल के अंदर एक लाख सरकारी पदों को भरा जाएगा। उन्होंने कहा कि लोग अब यह महसूस कर रहे हैं कि बीते पांच सालों में मुख्यमंत्री सिर्फ भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।

इससे पहले निर्मल जिले के भैंसा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना में अगर उनकी पार्टी सत्ता में आएगी तो किसानों के दो लाख रूपये तक के कृषि कर्ज माफ कर दिये जाएंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर झूठे वादे करने को लेकर भी निशाना साधा।

गांधी ने आरोप लगाया कि राव ने भीमराव आंबेडकर के नाम पर रखी गई परियोजना का नाम बदलकर उनका अपमान किया है। तेलंगाना राष्ट्र समिति के प्रमुख पर निशाना साधते हुए गांधी ने आरोप लगाया कि उन्होंने परियोजना की डिजाइन बदल दी जिससे इसकी लागत 38 हजार करोड़ से बढ़कर एक लाख करोड़ रूपये हो गई।

राहुल ने आरोप लगाया कि इस (परियोजना को) एक लाख करोड़ का क्यों बनाया गया? क्योंकि मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार करना चाहते थे।

गांधी ने कहा ने कहा कि तेलंगाना में परिवर्तन आएगा। केसीआर सरकार जाएगी। और दिल्ली में, नरेंद्र मोदी की सरकार भी जाएगी। मैं यहां झूठे वादे करने नहीं आया हूं। अगर आप झूठे वादे सुनना चाहते हैं तो केसीआर और मोदी के पास जाएं, वे आपसे झूठे वादे करेंगे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story