Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पश्चिम बंगालः चायवाले ने अर्जेंटीना के रंग में रंग दिया अपना घर, जानिए पूरी कहानी

पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना जिले में एक चाय की दुकान वाले ने अपना पूरा घर ही अर्जेंटीना के झंडे के रंग में रंग दिया है।

पश्चिम बंगालः चायवाले ने अर्जेंटीना के रंग में रंग दिया अपना घर, जानिए पूरी कहानी

रुस में 21वां फीफा वर्ल्ड कप जल्द ही शुरु होने वाला है, जिसमें दुनियाभर की 32 टीमें हिस्सा लेंगी, हालांकि भारत की टीम इसमें शामिल नहीं हैं लेकिन इसकी दीवानगी यहां सर चढ़कर बोल रही है। पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना जिले में एक चाय की दुकान वाले ने अपना पूरा घर ही अर्जेंटीना के झंडे के रंग में रंग दिया है।

अर्जेंटीना को सपोर्ट करने वाले चायवाले का नाम शाहिब शंकर पात्रा है। शंकर की इच्छी थी कि वो रुस जाकर अपनी पसंदीदा टीम का मैच देखें। इसके लिए 900 यूएसडी यानी 60, 000 रुपए भी जमा किए थे लेकिन कोलकाता के ट्रेवल एजेंट ने वहां जाने के लिए उनके द्वारा जमा किए गए पैसों को कम बताते हुए वहां जाने के लिए उन्हें 1.5 लाख का बजट बताया।
इसके बाद मायूस शंकर ने हिम्मत नहीं हारी और अपनी पसंदीदा टीम को सपोर्ट करने के लिए अपने तीन मंजिला घर को अर्जेंटीना के रंग में रंग दिया। शंकर का कहना है कि उन्हें सिगरेट या शराब की लत नहीं है। उनकी एक ही लत है मेसी और अर्जेंटीना।
शंकर अपने तीन मंजिला घर की ग्राउंड फ्लोर पर अपनी चाय की दुकान चलाते हैं और वो हर चार वर्ष पर विश्व कप के दौरान लाइट ब्लू और उजले रंग से पेंट करवाते हैं।
शंकर के अलावा उनके परिवार में उनकी पत्नी सपना और 20 साल की बेटी नेहा और 10 साल का बेटा शुभम भी मेस्सी के समर्थक हैं।
शंकर कहते हैं कि मेरे बच्चे मेसी के बारे में सब कुछ जानते हैं। उसे खाने में क्या पसंद है, वह कौन सी कार चलाता है, सब कुछ।’ उन्होंने कहा, ‘वे मेसी का कोई मैच नहीं छोड़ते। अगर परीक्षा के दौरान देर रात मैच होता है तो वह जल्दी सोने का नाटक करते हैं लेकिन अपने मोबाइल पर लाइव मैच देखते हैं।
Next Story
Top