Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ये हैं तत्काल टिकट के रूल, जानें बुकिंग-रिफंड से जुड़े IRCTC के 5 नियम

भारतीय रेलवे ने तत्काल टिकट के नियमों में कोई बदलाव नहीं किया है। अगर आपने ऐसी कोई खबर कहीं पढ़ी है तो वह बिल्कुल निराधार है। रेलवे का कहना है कि IRCTC द्वारा 2015 से कई बार नियमों में बदलाव किया गया है लेकिन हाल में रेलवे के नियमों में किसी तरह को कोई नया बदलाव नहीं हुआ है।

ये हैं तत्काल टिकट के रूल, जानें बुकिंग-रिफंड से जुड़े IRCTC के 5 नियम

भारतीय रेलवे ने तत्काल टिकट के नियमों में कोई बदलाव नहीं किया है। अगर आपने ऐसी कोई खबर कहीं पढ़ी है तो वह बिल्कुल निराधार है। रेलवे का कहना है कि IRCTC द्वारा 2015 से कई बार नियमों में बदलाव किया गया है, जिनमें बुंकिग से लेकर रिफंड तक शामिल है।

लेकिन हाल में रेलवे के नियमों में किसी तरह को कोई नया बदलाव नहीं हुआ है। हालांकि, अक्सर तत्काल टिकट के बारे में यात्रियों को कई कंफ्यूजन रहती है। IRCTC के तत्काल टिकट बुकिंग के नियम हर यात्री के लिए जानना जरूरी है। इससे आपको तत्काल टिकट बुकिंग में और आसानी हो जाएगी।

यह भी पढ़ें- अगर आप भी Aadhar Link को लेकर हैं कन्फ्यूज, तो यहां जानें कब तक लिंक करनी है कौन सी सेवा

Online टिकट बुक करने का समय

IRCTC द्वारा एसी की तत्काल टिकट बुकिंग सुबह 10 बजे से शुरू होती है वहीं, नॉन-एसी टिकट बुकिंग सुबह 11 बजे से शुरु होती है। तत्काल टिकट यात्रा करने से एक दिन पहले बुक करानी होती है।

हालांकि, कंफर्म तत्काल टिकट कैंसिल कराने पर कोई रिफंड नहीं मिलता लेकिन 30 जून साल 2006 को जारी किए गए कमर्शियल सर्कुलर नंबर 52, के अनुसार अगर ये 5 स्थितियां पैदा होती हैं तो आपके तत्काल टिकट के पूरे पैसे वापस कर दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें- आपका PAN कार्ड एक्टिव है या नहीं, इन 5 स्टेप से करें पता

IRCTC से तत्काल टिकट बुकिंग-रिफंड के 5 नियम

  • अगर कोई भी ट्रेन अपने निर्धारित समय से तीन घंटे से ज्यादा लेट हो तो यात्री अपने किराए के पैसे रिफंड के लिए दावा कर सकते हैं।

  • वहीं, किसी ट्रेन के रूट डायवर्जन पर भी यात्री रेलवे से अपना पैसा रिफंड मांग सकता है अगर वह उस रूट पर यात्रा नहीं करना चाहता।

  • अगर ट्रेन का रूट बदल दिया गया हो और यात्री जिस स्टेशन से चढ़ने वाला था या जहां वो उतरने वाला हो वहां से ट्रेन ना होकर गुजरे तो ऐसी स्थिति में भी रेलवे आपके पूरे पैसे लौटाने के लिए बाध्य है।

  • यदि यात्री के लिए जिस कोच में तत्काल की व्यवस्था की गई थी वह कोच अटैच नहीं है और यात्री को उसी कोच में सीट दी मिली हो तो ऐसी स्थिति में भी यात्री अपने पूरे पैसे रेलवे से वापस मांग सकता है।

  • अगर किसी यात्री ने जिस क्लास में टिकट कराई थी, उसे उससे लोअर क्लास की टिकट मिली हो और वह यात्रा न करना चाहे तो भी उसे पैसे वापस मिल जाएंगे। यदि यात्री लोअर क्लास में यात्रा कर लेते हैं तो आपको दोनों क्लास की तत्काल टिकट के चार्ज में जो अंतर होगा उतना रिफंड मिल जाएगा।

Next Story
Top