Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अफगानिस्तान: तालिबान ने तोपों और ग्रेनेड लॉन्चर से किया हमला, 11 सैनिकों की मौत

घटना के बाद प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता आरिफ नूरी ने बताया कि तालिबान ने जगतु जिले में पुलिस की सुरक्षा चौकी को निशाना बनाया।

अफगानिस्तान: तालिबान ने तोपों और ग्रेनेड लॉन्चर से किया हमला, 11 सैनिकों की मौत

अफगानिस्तान में मंगलवार को तालिबान के ताजा हमलों में कम से कम 11 अफगान सैनिकों और पुलिसकर्मियों की मौत हो गई। प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता मोहम्मद नसीर मेहरी के अनुसार पश्चिमी फराह प्रांत में तालिबान द्वारा सुरक्षा बल की चौकी पर किए हमले में कम से कम पांच सैनिकों की मौत हो गई।

मेहरी ने बताया कि बाला बुलुक जिले में हुए हमले में दो सैनिक घायल हो गए। कई घंटों तक चली मुठभेड़ में छह तालिबानी लड़ाके मारे गए और तीन अन्य घायल हो गए। उन्होंने कहा, सहायता दल वहां पहुंच गए हैं और स्थिति नियंत्रण में है।

इसे भी पढ़ें- अमेरिका ने रूसी सैन्य सामन निर्यात पर लगाया प्रतिबंध, भारत के रक्षा सौदों पर पड़ेगा बड़ा असर

इससे पहले पूर्वी गजनी प्रांत में आतंकवादियों के हमले में कम से कम चार स्थानीय पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और सात घायल हो गए। प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता आरिफ नूरी ने बताया कि तालिबान ने प्रांत के जगतु जिले में स्थानीय पुलिस की सुरक्षा चौकी को निशाना बनाया।

उन्होंने कहा कि मुठभेड़ कई घंटे तक चली और तालिबान ने तोपों और रॉकेट चालित ग्रेनेड लॉन्चरों का इस्तेमाल किया। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने मीडिया को भेजे संदेशों में फराह और गजनी में हुए हमलों की जिम्मेदारी ली है।

उन्होंने कहा कि तालिबान ने फराह में हुए हमले में दो अफगान सैनिकों को बंधक बना लिया है लेकिन अभी तक अफगान सेना ने इसकी पुष्टि नहीं की है।

इसे भी पढ़ें- पाकिस्तान: बलूचिस्तान में सुरक्षाबलों पर 3 आत्मघाती हमले, 8 पुलिसकर्मियों की मौत

प्रांतीय परिषद के सदस्य मोहम्मद नासिर नजारी ने बताया कि मंगलवार को पश्चिम बडगिस प्रांत में जांच चौकियों पर किए गए हमलों में दो पुलिसकर्मी मारे गए और छह सैनिकों को बंधक बना लिया गया।

उन्होंने इसके लिए तालिबान को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि आतंकवादी कादिस जिले में कई पुलिस और सैन्य जांच चौकियों पर घुस आए। अब स्थिति नियंत्रण में है।

इस सप्ताह हुए कई हमले

अफगानिस्तान में इस सप्ताह कई घातक हमले हुए। काबुल में रविवार को मतदाता पंजीकरण केंद्र पर इस्लामिक स्टेट के आत्मघाती विस्फोटों में 57 लोग मारे गए और सोमवार को तालिबान ने पश्चिमी अफगानिस्तान में हमले किए जिसमें 18 सैनिक और पुलिसकर्मी मारे गए थे।

इनपुट- भाषा

Next Story
Top