logo
Breaking

ताजमहल विवाद में आजम खान भी कूदे, बोले- संसद, राष्ट्रपति भवन को भी गिरा दो

संगीत सोम ने ताजमहल को भारतीय संस्कृति पर एक धब्बा करार दिया है। इसके साथ ही विपक्ष को भाजपा पर निशाना साधने का मौका मिल गया है।

ताजमहल विवाद में आजम खान भी कूदे, बोले- संसद, राष्ट्रपति भवन को भी गिरा दो

ताजमहल को लेकर विवाद अब गहराता ही जा रहा है। योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा प्रदेश की टूरिज्म बुकलेट से ताजमहल की बजाए गोरखनाथ मंदिर को शामिल करने के बाद भाजपा विधायक संगीत सोम के बयान ने आग में तेल का काम कर दिया है।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री कार्यालय में लगी आग, कई अहम दस्तावेज स्वाह

दरअसल, संगीत सोम ने ताजमहल को भारतीय संस्कृति पर एक धब्बा करार दिया है। इसके साथ ही विपक्ष को भाजपा पर निशाना साधने का मौका मिल गया है। सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान ने संगीत सोम पर बिना नाम लिए निशाना साधा है।

आजम खान ने कहा है कि गुलामी की निशानियों को नहीं मिटा पाना राजनीतिक नपुंसकता की तरह है। बकौल खान, 'मैं बस यही कहना चाहता हूं कि उन सभी इमारतों को गिरा देना चाहिए, जिनसे बीते हुए शासकों की बू आती है।'

यह भी पढ़ें: भाईदूज-दिवाली से पहले महाराष्ट्र में बसों की हड़ताल, जनता बेहाल

सपा नेता ने आगे कहा, 'मैं पहले ही कह चुका हूं कि ताजमहल ही नहीं, संसद, राष्ट्रपति भवन, कुतुब मीनार सभी को गिरा देना चहिए। हम तो बादशाह से गुजारिश करते हैं। छोटे बादशाह से तो हमने अपील की थी आप आगे चलो हम साथ देंगे। पहला फावड़ा आपका होगा तो दूसरा हमारी ओर से चलेगा।'

यह भी पढ़ें: नाराज पुलिस जवानों ने राजनाथ सिंह को नहीं दिया 'गार्ड ऑफ ऑनर'

खान ने कहा कि इस सब के बावजूद कदम पीछे खिंचना राजनीतिक नपुंसकता की तरह है। संगीत सोम पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'मैं किसी को जवाब नहीं दे रहा हूं, इसकी वजह है कि गोश्त के कारखाने चलाने वालों को राय देने का राइट नहीं है। इस पर तो मोदी-योगी को फैसला लेना है।'

Loading...
Share it
Top