Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अलेप्पो: 7 साल की बच्ची का संदेश, हम जिंदा रहने के लिए लड़ रहे हैं

बाना ने अलेप्पो में हो रही भारी बमबारी और हवाई हमले की डरावनी तस्वीरें ट्वीट की हैं।

अलेप्पो: 7 साल की बच्ची का संदेश, हम जिंदा रहने के लिए लड़ रहे हैं
अलेप्पो. गृहयुद्ध और आतंकवाद में जकड़े सीरिया के शहर अलेप्पो ली एक 7 साल की बच्ची बाना इस समय ट्विटर पर जाना पहचान नाम बनी हुई है। दरअसल बाना और उसकी मां फातिमा ने ट्विटर पर अलेप्पो और वहां के हालातों के बारे में लगातार जानकारी दे रही हैं। दोनों मां बेटी अलेप्पो के हालातों की तस्वीरें और विडियो अपने ट्वीटर अकाउंट पर लोगों से शेयर करती हैं। मैसेज में बच्ची ने अपना 'आखिरी संदेश' नाम से एक ट्वीट किया है।
इस अकाउंट को फातिमा संभालती हैं और वे दोनों इसी ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करती हैं। बाना और फातिमा ने एक के बाद एक कई ट्वीट करके वहां हो रही भारी बमबारी और हवाई हमले की एक बेहद डरावनी तस्वीरें दुनिया के सामने रखी है। उन्होंने लिखा, 'हम भाग रहे हैं। भारी बमबारी में कई लोग मारे गए हैं। हम जिंदा रहने के लिए लड़ रहे हैं।'
ट्विटर पर बाना के 1.4 लाख से ज्यादा फॉलोअर हैं। अलेप्पो पर लगातार की जा रही लगातार बमबारी की कई तस्वीरें और विडियोज भी उन्होंने पोस्ट किए हैं। इस सबके बीच वहां के लोगों की जिंदगी कितनी मुश्किल हो गई है, इसका अंदाजा इन ट्वीट्स से लग जाता है। 27 नवंबर को बाना की मां फातिमा ने लिखा, 'आखिरी संदेश- अभी हमपर भारी बमबारी हो रही है। हम और जिंदा नहीं रह पाएंगे। जब हमारी मौत हो, तो उन 2 लाख लोगों के बारे में बात करते रहिएगा जो अब भी यहां फंसे हुए हैं। विदा- फातिमा।' अलेप्पो में रूस के नेतृत्व में राष्ट्रपति बशर-अल असद की सेना विरोधी गुट के कब्जे वाले हिस्सों में जमकर सैन्य कार्रवाई कर रही है। बाना ने ट्वीट कर इस बमबारी के कारण हो रही बर्बादी और मौतों की खौफनाक तस्वीर पोस्ट की है।
कई घंटे बाद 28 नवंबर को धूल से ढकी हुई बाना की एक तस्वीर को उनकी मां ने ट्विटर पर अपलोड किया और लिखा, 'आज की रात के लिए हमारे पास कोई घर नहीं है। हमारे घर पर बम गिराया गया और अब वह बर्बाद होकर बस मलबा बच गया है। मैंने लोगों को मरते देखा और मैं भी तकरीबन मर ही गई थी। बाना #अलेप्पो।' इसके अगले दिन एक और ट्वीट कर उन्होंने लिखा, 'अभी हमपर भारी बमबारी हो रही है। हम जिंदगी और मौत के बीच में हैं। कृपया हमारे लिए दुआ करते रहिए। #अलेप्पो।'
सेना द्वारा बमबारी शुरू किए जाने पर बाना की मां फातिमा ने लिखा, 'सेना आ गई है। बिल्कुल गंभीरता से कह रही हूं कि यह हमारी जिंदगी के आखिरी दिन हो सकते हैं। इंटरनेट भी नहीं है। कृपया हमारे लिए प्रार्थना कीजिए।'सेना द्वारा बमबारी शुरू किए जाने पर बाना की मां फातिमा ने लिखा, 'सेना आ गई है। बिल्कुल गंभीरता से कह रही हूं कि यह हमारी जिंदगी के आखिरी दिन हो सकते हैं। इंटरनेट भी नहीं है। कृपया हमारे लिए प्रार्थना कीजिए।'
सीरिया और उसकी सहयोगी सेना की ओर से सोमवार को बताया गया कि उन्होंने पूर्वी अलेप्पो के एक हिस्से को विरोधी गुट के कब्जे से छीनकर हासिल कर लिया है। बताया गया है कि अलेप्पो में हमला तेज कर दिया गया है और विरोधी गुट के सबसे मजबूत शहरी गढ़ में ही उसे कुचलने की पूरी कोशिश की जा रही है। रॉयटर्स की एक खबर के मुताबिक, बमबारी में अपना घर खो देने के बाद फातिमा और उनका परिवार फिलहाल अपने पड़ोसी के साथ रह रहा है, लेकिन वे अपने लिए एक दूसरे घर की तलाश भी कर रहे हैं।
ट्विटर पर फातिमा ने बताया, 'हम इसके लिए इंतजार करेंगे और देखेंगे कि आगे क्या होता है, क्योंकि अभी तो जिंदगी के लिए ही संघर्ष कर रहे हैं।' बाना द्वारा किए गए ट्वीट्स को ट्विटर पर काफी पढ़ा जाता है। हैरी पॉटर श्रृंखला की लेखिका जे.के. रॉउलिंग ने भी बाना के ट्वीट्स पर प्रतिक्रिया की थी। राउलिंग ने तो अपनी हैरी पॉटर श्रृंखला की ईबुक्स भी बाना को तोहफे में भेजी थीं। 26 नवंबर को किए गए एक ट्वीट में बाना ने अपनी एक तस्वीर अपलोड करते हुए लिखा था, 'गुड आफ्टरनून। युद्ध को भूलने के लिए मैं पढ़ रही हूं।' इस तस्वीर को पोस्ट किए जाते समय बाना का घर सलामत था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top