Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोदी सरकार ने देश को दिलाया सम्मान, कांग्रेस को विदेश नीति पर करारा जवाब

मोदी सरकार की विदेश नीति के जरिए ही भारत को दुनिया में एक अलग पहचान मिली है।

मोदी सरकार ने देश को दिलाया सम्मान, कांग्रेस को विदेश नीति पर करारा जवाब

राज्यसभा में सरकार की विदेश नीति पर हुई चर्चा का जबाव देते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत ने पड़ोसी देशों के साथ नए और सुदृढ़ संबध विकसित करने की नीति अपनाई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की विदेश नीति के जरिए भारत को दुनिया में एक अलग पहचान और सम्मान हासिल हुआ है।

उच्च सदन में देर शाम को इस चर्चा का जवाब देते हुए सुषमा स्वराज ने विपक्ष की ओर से उठाए गये सवालों और आशंकाओं को दूर करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने विदेश नीति से व्यक्तिगत सम्मान कमाया था, जबकि प्रधानमंत्री मोदी ने विदेश नीति से पूरे भारत को दुनियाभर में सम्मान दिलाने का काम किया है और दुनिया के देशों की नजरे भारत पर टिकी हुई हैं।

इसे भी पढ़ें: संसद में मॉब लिंचिंग पर हंगामा, खड़गे बोले- घटना के पीछे VHP

उन्होने खासकर कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि देश में विदेश नीति की चिंता की जन्मदाता रही कांग्रेस के अधूरे काम को मोदी सरकार को पूरा करना पड़ रहा है। जहां तक पडोसी देशों के साथ संबन्धों का सवाल है उसमें भारत ने नेपाल के भूकंप, श्रीलंका की बाढ़ में मदद की है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 में ग्वादर में चीनी सेना घुसी, तब किसकी सरकार थी, राजीव गांधी 17 साल तक नेपाल नहीं गए।

कांग्रेस पर जमकर बरसी सुषमा

राज्यसभा में विदेश मंत्री सुषमा ने कहा कि बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद पाकिस्तान से संबंध बिगड़े, हमने पाक से संबंध सुधारने की पूरी कोशिश की पर आतंक और बातचीत एकसाथ नहीं हो सकता। सुषमा ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी 2 बार नेपाल गए मालदीव ने हमसे पानी पर मदद मांगी।

भारत ने संकट के दिनों में हर देश की सहायता की है। सुषमा ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी दो बार नेपाल गए मालदीव ने हमसे पानी पर मदद मांगी। भारत ने संकट के दिनों में हर देश की सहायता की है। उन्होंने कहा कि युग बदल गया है, अब आर्थिक युद्ध होते हैं।

इसे भी पढ़ें: हाजिरी के मामले में फेल हुए सांसद, हर दिन सिर्फ 5 सांसद रहे मौजूद

विदेश नीति पर सरकार विफल: विपक्ष

उच्च सदन में दोपहर बाद शुरू की हुई सरकार की विदेश नीति पर चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने केंद्र सरकार तीखा हमला बोलते हुए पर हमला बोलते हुए मोदी सरकार की आलोचना ही नहीं की, बल्कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विदेश दौरों पर पर भी सवाल खड़े किये ।

उन्होंने मोदी सरकार की विदेशी नीति में भारत को पीछे धकेलने का आरोप लगाते हुए सवाल किये कि प्रधानमंत्री मोदी के अब तक के विदेश दौरों से भारत को क्या लाभ हुआ है और किस देश के साथ किस प्रकार के समझौते किये तथा उनका क्या नतीजा रहा?

इसे भी पढ़ें- किसानों के मुद्दे के बीच सांसदों को याद आई अपनी सैलरी

पूरी स्थिति को प्रधानमंत्री को संसद में बताना चाहिए, लेकिन अभी तक पीएम मोदी ने संसद को अपने एक भी विदेश दौरे की जानकारी नहीं दी है। आंनद शर्मा ने पडोसी देशों के संबन्धों में आ रही खटास को भी केंद्र सरकार की अस्थिर विदेश नीति का नतीजा करार दिया।

कांग्रेस ने मोदी सरकार पर विदेशी दौरों और विदशों में हो रहे घटनाक्रम पर देश को गुमराह करने का भी आरोप लगाया। इस चर्चा में तपन कुमार सेन, माकपा के डी. राजा, तृणमूल के डेरेक ओब्राईन व सुखेन्दु शेखर राय, कांग्रेस के राजीव शुकला, सपा के प्रो. रामगोपाल यादव और एडीएमके तिरूची शिवा आदि ने भी हिस्सा लेते हुए सरकार को घेरने का प्रयास किया।

Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top