Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुषमा स्वारज ने विदेश मंत्री वांग यी से की मुलाकात, इस मुद्दे पर की चर्चा

विदेश मंत्रालय ने आज कहा कि भारत और चीन ने सिक्किम में नाथुला मार्ग से कैलाश मानसरोवर यात्रा फिर से शुरू करने पर सहमति जता दी है।

सुषमा स्वारज ने विदेश मंत्री वांग यी से की मुलाकात, इस मुद्दे पर की चर्चा
X

विदेश मंत्रालय ने आज कहा कि भारत और चीन ने सिक्किम में नाथुला मार्ग से कैलाश मानसरोवर यात्रा फिर से शुरू करने पर सहमति जता दी है। करीब 10 महीने पहले डोकलाम में पैदा हुए गतिरोध के बाद यात्रा रोक दी गयी थी। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की यहां चीनी विदेश मंत्री वांग यी से बातचीत के दौरान यह निर्णय लिया गया।

बता दें कि सुषमा स्वराज चीन और मंगोलिया की छह दिवसीय यात्रा पर हैं। शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन के दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात की।

यह भी पढ़ें- देश को हिंदू- मुसलमान में मत बांटो, पाकिस्तान चाहता है देश को तोड़ना: राजनाथ सिंह

सुषमा ने वांग के साथ संयुक्त प्रेस वक्तव्य में कहा कि हम इस बात से खुश हैं कि इस साल नाथूला मार्ग से कैलाश मानसरोवर यात्रा फिर शुरू होगी। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि इस साल चीनी पक्ष के पूरे सहयोग से यात्रा भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए संतोष देने वाला अनुभव होगी। पिछले साल डोकलाम में भारत के साथ सैन्य गतिरोध के बाद चीन ने यात्रा रोक दी थी।

भारतीय सैनिकों द्वारा चीन की सेना को भूटान के दावे वाले इलाके में एक सड़क बनाने से रोके जाने के बाद 16 जून को दोनों के बीच गतिरोध की स्थिति पैदा हो गयी थी। अंतत: 28 अगस्त को यह स्थिति समाप्त हुई। विदेश मंत्रालय हर साल दो अलग अलग मार्गों से जून से सितंबर तक यात्रा का आयोजन करता है।

यह भी पढ़ें- महिला मोर्चा शिविर के दौरान बोले अमित शाह, 'केवल चुनावी सफलता हमारा लक्ष्य नहीं'

इन दो मार्गों में लिपुलेख दर्रा (उत्तराखंड) और नाथू ला दर्रा (सिक्किम) हैं। धार्मिक महत्व वाली इस तीर्थयात्रा का सांस्कृतिक महत्व भी है जिसमें हर साल सैकड़ों लोग कैलाश मानसरोवर जाते हैं।

इनपुट भाषा

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story