Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कजाखिस्तान पहुंचीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रणनीतिक साझेदारी पर होगी वार्ता

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज कजाखिस्तान पहुंचीं जो कि मध्य एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापार और निवेश साझेदार है। स्वराज इससे पहले रास्ते में कुछ समय के लिए तुर्कमेनिस्तान भी रूकीं।

कजाखिस्तान पहुंचीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रणनीतिक साझेदारी पर होगी वार्ता

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कजाखिस्तान पहुंचीं जो कि मध्य एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापार और निवेश साझेदार है। स्वराज इससे पहले रास्ते में कुछ समय के लिए तुर्कमेनिस्तान भी रूकीं।

स्वराज संसाधन समृद्ध मध्य एशियाई देशों के साथ रणनीतिक साझेदारी मजबूत बनाने के भारत के प्रयासों के तहत तीन देशों कजाखिस्तान, किर्गिस्तान और उज्बेकिस्तान की यात्रा पर हैं। कजाखिस्तान जाने के रास्ते में स्वराज तुर्किमेनिस्तान रूकीं और उन्होंने अपने तुर्कमेनिस्तानी समकक्ष राशिद मेरेदोव से विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत की।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘प्राचीन और ऐतिहासिक संबंध 2500 वर्ष पुराने हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तीन देशों की अपनी यात्रा के पहले हिस्से के तहत कजाखिस्तान की राजधानी अस्ताना पहुंचीं। दोनों देशों के बीच नजदीकी रणनीतिक साझेदारी है और कजाखिस्तान मध्य एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापार और निवेश साझेदार है।'
विदेश मंत्रालय की ओर से नयी दिल्ली में जारी एक बयान में कहा गया कि स्वराज अस्ताना की अपनी यात्रा के दौरान अपने कजाखिस्तानी समकक्ष कैरात अब्द्राखमानोव के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगी। इसमें कहा गया है कि स्वराज देश के नेतृत्व से भी मुलाकात करेंगी और भारतीय समुदाय के साथ संवाद करेंगी।
बयान में कहा गया कि 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कजाखिस्तान यात्रा और जून 2017 में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए उनकी यात्रा से द्विपक्षीय संबंध मजबूत हुए हैं। मोदी ने 2017 की अपनी यात्रा के दौरान कजाखिस्तान के राष्ट्रपति के साथ एक सार्थक बातचीत की थी।
इसमें कहा गया है कि एससीओ और परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलनों के इतर भी नेताओं के बीच बैठकें हुई हैं जिससे दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों के प्रगाढ़ होने की गति बनी रही। स्वराज की मध्य एशिया के इन तीन देशों की यात्रा विदेश मंत्री के तौर पर उनकी पहली यात्रा है।
Next Story
Top