Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

11th World Hindi Conference: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाणिनी भाषा प्रयोगशाला का किया उद्घाटन

जिसमें भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज पहले मॉरीशस पोर्ट लुइस में 11 वें विश्व हिंदी सम्मेलन के दौरान ''पाणिनी भाषा प्रयोगशाला'' का उद्घाटन किया है।

11th World Hindi Conference: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाणिनी भाषा प्रयोगशाला का किया उद्घाटन
X

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज पहले मॉरीशस पोर्ट लुइस में 11 वें विश्व हिंदी सम्मेलन के दौरान 'पाणिनी भाषा प्रयोगशाला' का उद्घाटन किया है।मॉरीशस पोर्ट लुइस में 11 वें विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है जिसमें भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज मुख्य रूप से भारत का नेतृत्व कर रही है।

इसके बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विपक्ष के पूर्व नेता पॉल बेरेन्गर और पोर्ट लुइस में वर्तमान के विपक्षी नेता जेवियर-लुक डुवाल से आज पहली बार मुलाकात भी की हैं।

बता दें कि संस्कृति और भाषा को बचाने पर जोर देते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कल कहा था कि अलग अलग देशों में हिन्दी को बचाने की जिम्मेदारी भारत ने ली है। 11वें विश्व हिन्दी सम्मेलन के दौरान अपने उद्घाटन संबोधन में सुषमा स्वराज ने कहा था कि भाषा और संस्कृति एक दूसरे से जुड़ी हैं।

ऐसे में जब भाषा लुप्त होने लगती है तब संस्कृति के लोप का बीज उसी समय रख दिया जाता है। उन्होंने कहा कि जरूरत है कि भाषा को बचाया जाए, उसे आगे बढ़ाया जाए, साथ ही भाषा की शुद्धता को बचाये रखा जाए। विदेश मंत्री ने कहा था कि हिन्दी भाषा को बचाने, बढ़ाने और उसके संवर्द्धन के बारे में कई देशों में चिंताएं सामने आई। ऐसे में इन देशों में लुप्त हो रही इस भाषा को बचाने की जिम्मेदारी भारत की है।

सम्मेलन में गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी विशिष्ठ अतिथि हैं। सम्मेलन में विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह, गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू, विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर, मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह आदि हिस्सा ले रहे हैं । मारिशस की शिक्षा मंत्री लीला देवी दुकन लक्षुमन ने सम्मेलन में आए अतिथियों का स्वागत किया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story