Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पाक पर फिर हो सकता है सर्जिकल स्ट्राइक: सेना प्रमुख

दो दिनों पहले सेना प्रमुख ने पाक और चीन से एक साथ लड़ने की बात कही थी।

पाक पर फिर हो सकता है सर्जिकल स्ट्राइक: सेना प्रमुख
X
नई दिल्ली. देश के नए आर्मी चीफ बनते ही जनरल बिपिन रावत ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की बात कही है। बता दें कि आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा है कि भारत के पास नियंत्रण रेखा के पार बने आतंकवादियों के अड्डों के खिलाफ कार्रवाई करने का हक है, और अगर जरूरत पड़ी तो सेना और सर्जिकल स्ट्राइक करने से हिचकिचाएगी नहीं।
एनडीटीवी न्यूज चैनल को दिए एक इंटरव्यू में बिपिन रावत ने कहा कि अगर सीमा के पार और भी आतंकी अड्डे हैं, और वे नियंत्रण रेखा पर हमारी ओर के हालात को बिगाड़ना जारी रखते हैं, तो हमारे पास आतंकवादियो के खिलाफ कार्रवाई करने का हक है, जिन्हें सीमापार से हमारे दुश्मन से समर्थन मिल रहा है। पिछले सप्ताह 27वें सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने वाले जनरल रावत ने कहा कि नवंबर, 2016 में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक 'एक खास संदेश देने के उद्देश्य से किए गए थे।
रावत ने आगे कहा कि 29 नवंबर को किए गए सर्जिकल स्ट्राइक 'अच्छी योजना' बनाकर किए गए। रावत उस वक्त वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ थे, और उन्होंने खुद सभी ऑपरेशनों पर नजर रखी थी। उन्होंने बताया कि बहुत भारी तैयारी की गई थी, और फिर उसे अंजाम दिया गया। उन्होंने यह भी बताया कि ऑपरेशन पर 'रीयल टाइम' निगरानी की गई थी, ताकि सेना की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। बिपिन रावत के मुताबिक, इसका श्रेय इन ऑपरेशनों की अच्छी योजना बनाने वाले मेरे पूर्ववर्ती को, नॉर्दर्न आर्मी कमांडर तथा जमीनी फौजियों को जाता है।
गौरतलब है कि दो दिनों पहले सेना प्रमुख ने कहा था कि सेना का काम सीमा पर शांति एवं सौहार्द कायम रखना है लेकिन यदि जरूरत पड़ी तो सेना अपनी ताकत दिखाने से नहीं हिचकिचाएगी। सेना प्रमुख रावत ने सोमवार को कहा कि सेना एकसाथ दो मोर्चों पाकिस्तान और चीन के साथ युद्ध के लिए तैयार है लेकिन उन्होंने बीजिंग के साथ टकराव के बजाय सहयोग पर ध्यान देने की जरूरत पर बल दिया।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story