Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सेक्स वर्कर को पैसा देने से मना करना रेप नहीं: सुप्रीम कोर्ट

अगर कोई महिला किसी पर बलात्कार का आरोप लगाती है तो उसका मामला तुरंत दर्ज होना चाहिए

सेक्स वर्कर को पैसा देने से मना करना रेप नहीं: सुप्रीम कोर्ट
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने एक रेप केस की सुनवाई करते हुए अपने फैसले में एक अहम बात कही है। कोर्ट ने कहा कि अगर कोई ग्राहक, सेक्स वर्कर से काम लेने के बाद पैसे देने से मना करता है, तो सेक्स वर्कर उस ग्राहक पर रेप केस नहीं कर सकती है।अदालत ने ये फैसला बेंगलुरू के एक बीस साल पुराने मामले में सुनाया है और इसके साथ ही इस मामले के तीन आरोपियों को बाइज्जत बरी कर दिया है।

अदालत ने कहा कि अगर कोई महिला किसी पर बलात्कार का आरोप लगाती है तो उसका मामला तुरंत दर्ज होना चाहिए लेकिन इस मामले में उसी की सारी बात सही हो, ऐसा होना हर वक्त सही नहीं होता, इसलिए इस मामले की पर्याप्त जांच होनी चाहिए और महिला के पास भी अपने ऊपर हुए अत्याचार को साबित करने के लिए पुख्ता सबूत होना चाहिए।

मालूम हो कि कोर्ट ने इसलिए ऐसा कहा क्योंकि जिस केस की सुनवाई वो कर रही थी, उसमें महिला ने तीन लोगों पर खुद का अपहरण और जबरन रेप करने का आरोप लगाया था, जिसे सही मानते हुए कर्नाटक हाईकोर्ट ने रेप का केस दर्ज किया था। जिसके बाद आरोपियों ने सुप्रीमकोर्ट में अपील की थी।

इस केस में महिला की सहेली ने कोर्ट में बयान दिया था कि उसकी दोस्त दिन में नौकरानी का और रात में सेक्स वर्कर का काम करती थी। इस काम के दौरान उसने तीनों आरोपियों के साथ डील की और 1000 रूपए की मांग की, जिसे कि इन तीनों लोगों ने देने से मना कर दिया इसलिए महिला ने इन तीनों पर अपहरण और रेप का केस दर्ज कर दिया।

Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top