Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की ओपीनियन पोल पर पाबंदी की मांग वाली याचिका

सुप्रीम कोर्ट में मीडिया द्वारा चुनाव अधिसूचना की तारीख से सभी चरणों के चुनाव संपन्न होने तक ओपिनियन पोल के प्रकाशन और प्रसारण को चुनौती दी गई थी।

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की ओपीनियन पोल पर पाबंदी की मांग वाली याचिका
X

सुप्रीम कोर्ट ने आज वह याचिका विचारार्थ स्वीकार करने से इंकार कर दिया जिसमें मीडिया द्वारा चुनाव अधिसूचना की तारीख से सभी चरणों के चुनाव संपन्न होने तक ओपिनियन पोल के प्रकाशन और प्रसारण को चुनौती दी गई थी।

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस ए एम खानविलकर और जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने कहा कि कई विशेषज्ञ हैं और किसी स्थिति का विश्लेषण करके उस पर अपनी राय देना व्यक्ति का अधिकार है, फिर चाहे वह कोई घटना हो या फिर चुनाव।
अधिवक्ता गोपाल शंकर नारायण ने कहा कि बिना नियमन के ओपिनियन पोल आने वाले चुनावों के बारे में झूठा और गलत पूर्वानुमान लगाते हैं जिसका असर मतदाता के व्यवहार पर पड़ता है जिससे संविधान के अनुच्छेद19 (1) (ए) के तहत सूचना प्राप्त करने की आजादी तथा स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनावों की संकल्पना को नुकसान पहुंचता है।
पीठ ने कहा कि कई नियम हैं जो ओपीनियन पोल का नियमन करते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story