Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कानून तोड़ना-कोर्ट की अवमानना करना हमारे खून में है: जस्टिस खेहर

जस्टिस खेहर ने ये बात शुक्रवार को एक केस की सुनवाई के दौरान कही।

कानून तोड़ना-कोर्ट की अवमानना करना हमारे खून में है: जस्टिस खेहर

सर्वोच्च न्यायलय के चीफ जस्टिस जे.एस.खेहर ने भारत में विधि मामलों में एक अहम सलाह दी है। उन्होंने कहा कि अब कानून का हनन करना और न्यायलय की अवमानना करना धीरे धीरे हमारी संस्कृति का हिस्सा बनता जा रहा है और अब ये आदत हमारे खून में भी शामिल हो गई है।

अंग्रेजी अखबार 'मेल टुडे' में प्रकाशित खबर के अनुसार जस्टिस खेहर ने ये बात शुक्रवार को एक केस की सुनवाई के दौरान कही।

इसे भी पढ़ें: दहशत: जाने कौन काट रहा है दिल्ली में महिलाओं की चोटियां!

जस्टिस खेहर ने कहा कि ये कदापि असहनीय है यदि आप चाहते हैं कि भारत विकास करे तो कानून का पालन करना अनिवार्य होगा उन्होंने कहा कि यदि आप कानून का पालन नहीं करेंगे तो सजा के भागीदार होंगे।

इसे भी पढ़ें: जल्दी फाइल करें आयकर रिटर्न अंतिम तिथि 31 जुलाई: आयकर विभाग

जस्टिस खेहर ने ये टिप्पड़ी दिल्ली के लाजपत नगर में एक इंस्टीट्यूट के हेड दिनेश खोसला के द्वारा घर की बिल्डिंग का उपयोग कमर्शियल के तौर पर किए जाने पर की।

Next Story
Share it
Top