logo
Breaking

सरकार बताए सजा-ए-मौत में फांसी की जगह क्या है विकल्प, दूसरे देशों में कैसे दी जाती हैं सजा- SC

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से सजा-ए-मौत के तहत फांसी के विकल्प की याचिका पर जवाब मांगा है।

सरकार बताए सजा-ए-मौत में फांसी की जगह क्या है विकल्प, दूसरे देशों में कैसे दी जाती हैं सजा- SC

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से सजा-ए-मौत के तहत फांसी के विकल्प की याचिका पर जवाब मांगा है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को इसके लिए 4 हफ्ते का वक्त दिया है। एक याचिका पर सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने कहा कि केंद्र सरकार बताए कि दूसरे देशों में मौत की सजा कैसे दी जाती है?

केंद्र सरकार को 4 हफ्ते में देना होगा जवाब

केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से जवाब दाखिल करने के लिए 4 हफ्ते का समय मांगा। कोर्ट ने ये स्वीकार करते हुए कहा कि अब इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट चार हफ्ते बाद सुनवाई करेगी।

यह भी पढ़ें- 50 हजार लोगों का रसोई गैस कनेक्शन हो रहा बंद, आप ना करें ये गलती

याचिकाकर्ता ने दी थी ये दलील

मामले में याचिकाकर्ता ने दलील दी थी कि वर्तमान के सभ्य समाज में फांसी की सजा बहुत ही अमानवीय है। इसलिए कोर्ट मौत की ऐसी सजा दे जिसमें दर्द कम हो। साथ ही दोषी को मौत का डर भी न सताए क्योंकि मौत का डर सबसे ज्यादा पीड़ा दायक होता है।
इतना ही नहीं याचिका में ये भी दलील दी गई कि फांसी की सजा देने में करीब 40 मिनट लगते हैं, जबकि गोली से मारने, इंजेक्शन और बिजली के झटके से मारने में सिर्फ चंद मिनट ही लगते हैं। ऐसे में दोषी को मौत की सजा देने के लिए इन्हीं में से किसी तरीके को अपनाया जाना चाहिए।
Loading...
Share it
Top