Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

31 जनवरी को दिखेगा ''सुपर ब्लू मून'', नीला नहीं इस रंग का होगा चांद!

सुपरमून के कारण चंद्रमा हर रोज के मुकाबले 14 फीसदी बड़ा और 30 फीसदी ज्यादा चमकदार दिखाई देता है।

31 जनवरी को दिखेगा

साल 2018 के पहले महीने के आखरी दिन यानी 31 जनवरी को चंद्रमा का एक अलग रूप देखने को मिलेगा। चांद के इस रूप को वैज्ञानिकों को 'सूपर ब्लू मून' का नाम दिया है। इस बात की जानकारी नासा ने दी है। नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार चंद्रमा के बारे में जानने और उसका अन्वेषण करने के इच्छुक लोगों के लिए ये एक खास मौका है।

सुपरमून के कारण चंद्रमा हर रोज के मुकाबले 14 फीसदी बड़ा और 30 फीसदी ज्यादा चमकदार दिखाई देता है। बता दें कि इस महीने की पहली तारीख को भी सुपर मून दिखा था और एक महिने में दूसरी बार पूर्ण चंद्मा दिखने की घटना हो रही है।
सुपर ब्लू मून 31 जनवरी को शाम 5 बजकर 18 मिनट से लेकर रात 8 बजकर 42 मिनट के बीच दिखेगा। यह साल का पहला ग्रहण भी होगा। इस दिन चांद तांबे के रंग जैसा दिखाई देगा। चंद्र ग्रहण के मौके पर आमतौर पर चांद काला हो जाता है लेकिन तांबे के रंग में दिखाई देगा। दरअसल सूर्य और चांद के बीच धरती के आ जाने से चंद्र ग्रहण होता है
सूर्य के प्रकाश में मौजूद अलग-अलग रंग पार्दर्शी वातावरण में फैल जाते है जबकि लाल रंग पूरी तरह नहीं बिखर पाता और चांद तक पहुंच जाता है। ब्ल मून के दिन इसीलिए चांद कॉपर रेड कलर का दिखता है।
गौरतलब है कि आज से 4.5 साल पहले पृथ्वी से हुई टक्कर के बाद चंद्रमा का जन्म हुआ था। चंद्रमा एक अपग्रह है जो कि पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता है। चांद पर पृथ्वी की तुलना में गुरुत्वाकर्षण कम है और इसी कारण चंद्रमा पर पहुंचने से इंसान का वजन कम हो जाता है। वजन का अंतर 16.5 फीसदी तक होता है। यह सौर मंडल का 5वां सबसे विशाल प्राकृतिक उपग्रह है।
Share it
Top