Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Subhash Chandra Bose Birthday: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत का रहस्य

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मृत्यु शुरू से ही विवादों में रही है। लोगों को आज तक पता नहीं कि आखिर सुभाषचंद्र बोस कहां गायब हो गए। क्या जिस विमान दुर्घटना में उनकी मौत हुई थी वो दुर्घटना कभी हुई भी थी? नेताजी की मौत के इतने सालों बाद भी उनकी मौत भारतीय इतिहास के सबसे बड़े रहस्यों में से एक है।

Subhash Chandra Bose Birthday: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत का रहस्य
X

Subhash Chandra Bose Birthday

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मृत्यु (Subhash Chandra Bose Death) शुरू से ही विवादों में रही है। लोगों को आज तक पता नहीं कि आखिर सुभाषचंद्र बोस कहां गायब हो गए। क्या जिस विमान दुर्घटना में उनकी मौत हुई थी वो दुर्घटना कभी हुई भी थी? नेताजी की मौत के इतने सालों बाद भी उनकी मौत भारतीय इतिहास के सबसे बड़े रहस्यों में से एक है। जानिए उस रहस्य की कुछ खास बातें। 18 अगस्त 1945 को ताइपे में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मृत्यु विमान दुर्घटना में हुई थी। लेकिन क्या यह सच है। इस बारे में कभी नहीं पता चला। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नेताजी की मौत एक बार तब फिर चर्चा में आई जब पंडित नेहरू की बहन विजयालक्ष्मी पंडित ने मीडिया को दिए एक बयान में कहा था कि उनके पास एक ऐसी खबर है जो पूरे देश में तहलका मचा देगी।

कैसे अपने से 14 साल छोटी इस लड़की के प्यार में पड़ गए 'नेताजी'

यह खबर आजादी से भी बड़ी है। लेकिन नेहरू ने उन्हें कुछ भी कहने से मना कर दिया था। विजया की इस बात को नेताजी की मौत से इस लिए जोड़ दिया गया क्योंकि उस समय वह रूस में बतौर इंडियन अंबेसडर के रूप में नियुक्त थीं। कई लोगों को मानना है कि सुभाषचंद्र बोस से उनकी रूस में मुलाकात हुई थी।

आल्ट बालाजी की वेब सीरीज 'बोस-डेड ऑर आलाइव' में भी अंत में दिखाया गया है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस रूस में रहते थे। और उन्होंने ताशकंद समझौते के दौरान लालबहादुर शास्त्री से मुलाकात भी की थी। लेकिन यह कितना सच है और कितना झूठ यह किसी को नहीं पता। क्योंकि ताशकंद समझौते की रात में ही लालबहादुर शास्त्री का निधन हो गया था।

मौत पर विवाद क्यों

तथ्यों के मुताबिक 18 अगस्त 1945 को नेताजी हवाई जहाज से मंचूरिया जा रहे थे। इसी हवाई सफर के दौरान वह लापता हो गए। जापान की एक संस्था ने उसी साल यह रिपोर्ट जारी की थी कि नेताजी का विमान ताइवान में क्रैश हो गया था। जिसमें उनकी मौत हो गई।

लेकिन इसके कुछ दिन बाद खुद जापान की सरकार ने इस बात की पुष्टि की थी कि 18 अगस्त 1945 को ताइवान में कोई विमान हादसा नहीं हुआ था। जिसके बाद नेताजी की मौत विवादों में आ गई। और उनकी मौत पर आज भी शंसय बना हुआ है। कई बार ये खबरें भी आईं की रूस ने उन्हें बंदी बना लिया था।

तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा' समेत सुभाष चंद्र बोस के ये 10 विचार आप में जोश भर देंगे

क्या कहती है सरकार

नेताजी की मौत से जुड़ी अफवाहों पर विराम लगाने के लिए कई लोगों ने आरटीआई का सहारा लिया। जिसमें भारत सरकार ने बताया कि 18 अगस्त 1945 को हवाई जहाज से मंचुरिया जाते वक्त विमान हादसे में नेता जी की मौत हो गई।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story