Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत को ''इंडिया'' क्या कहा जाता है, जानें असली कहानी

भारत, एक ऐसा देश है जिसके अनेक नाम हैं, हिन्दी में भारत, उर्दू में हिन्दुस्तान, तो इंग्लिश यानि अंग्रेजी में इंडिया कहा जाता है। जबकि भारत को प्राचीन काल में आर्यव्रत के नाम से पुकारा जाता था। भारत में कई सारे अक्रांताओं के आक्रामण करने की वजह से इसके नाम के साथ-साथ यहां की बोलचाल, खानपान, पहनावे आदि में आया बदलाव साफ देखा जा सकता है।

भारत को
know the Story why Bharat called India in English
भारत, एक ऐसा देश है जिसके अनेक नाम हैं, हिन्दी में भारत, उर्दू में हिन्दुस्तान, तो इंग्लिश यानि अंग्रेजी में इंडिया कहा जाता है। जबकि भारत को प्राचीन काल में आर्यव्रत के नाम से पुकारा जाता था। भारत में कई सारे अक्रांताओं के आक्रामण करने की वजह से इसके नाम के साथ-साथ यहां की बोलचाल, खानपान, पहनावे आदि में आया बदलाव साफ देखा जा सकता है। लेकिन आज हम आपको भारत के अंग्रेजी नाम इंडिया कहे जाने के पीछे छुपी कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप अपने देश के नाम रखे जाने की वास्तव वजह जान सकें।
भारत के अंग्रेजी नाम 'इंडिया' पड़ने की कहानी चन्द्रगुप्त मौर्य के काल से जुड़ी हुई है। ग्रीस का महान योद्धा सिकंदर जिसने दुनिया जीतने का अभियान शुरू किया था। सिकंदर के सेनापति सेल्युकस ने जब भारत पर हमला किया, तो उसे सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य के हाथों हार का सामना करना पड़ा। जिसके बाद उसने अपनी बेटी हेलन का विवाह सम्राट चंद्रगुप्त मोर्य से करवा दिया और दहेज या उपहार के रूप में अफगानिस्तान दे दिया। तभी से सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य के दरबार में सेल्युकस का एक दूत रखा। इस दूत का नाम मैगस्थनीज था जिसने भारत के बारे में एक किताब लिखी थी। जिसका नाम उसने 'इंडिका' रखा।
कई विदेशी इतिहासकारों, यात्रियों और लेखकों नें अपनी कृतियों और रचनाओं में मैगस्थनीज की किताब 'इंडिका' का उल्लेख किया है। मेगास्थनीज की किताब इंडिका के नाम पर ही यूरोप के लोग भारत को 'इंडिया' कहने लगे थे। जिसके बाद से भारत को अंग्रेजी में इंडिया कहा जाने लगा। जिसके बाद भारत पर राज करने वाले अंग्रेजों ने अपनी कंपनी का नाम भी 'ईस्ट इंडिया कंपनी' रखा। ऐसा ही अरब के लोग 'स' और 'न' शब्द को नहीं बोल पाते थे। जिसकी वजह से सिंध के आसपास के इलाके या हिस्से को वो लोग 'हिंद' कहते थे। जिसकी वजह से अरबी और फारसी में भारत का नाम 'हिंदुस्तान' पड़ गया। जबकि आजादी के बाद नवनिर्वाचित सरकार ने भारत के लोगों को अंग्रेजों द्वारा दिया हुआ अंग्रेजी नाम 'इंडिया' की नई परिभाषा समझाई जिसके मुताबिक,'भारत इज इंडिया' या 'इंडिया इज भारत'।
जबकि भारत को अंग्रेजी में 'इंडिया' कहे जाने की दूसरी कहानी के मुताबिक, प्राचीन सिंधु घाटी सभ्यता और सिंधु नदी आधार रहें हैं। दरअसल सिंधु नदी एक बहुत ही बड़ी नदी थी जो एक साथ तीन देशों(पाकिस्तान,भारत और चीन) में बहती थी। इस नदी को संस्कृत में सिंधु और अंग्रेजी में 'इंडस' कहा जाता था। जो इसी 'इंडस' शब्द की वजह से भारत को 'इंडिया' कहा जाने लगा।
Loading...
Share it
Top