Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानिए कारगिल पर फतह दिलाने वाले हीरोज की कहानी

भले ही करगिल जंग को 14 साल बीत चुके हैं लेकिन इस युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की दिलेरी की दास्‍तां आज भी देशवासियों की जुबान पर है।

जानिए कारगिल पर फतह दिलाने वाले हीरोज की कहानी
X

नई दिल्‍ली। भले ही करगिल जंग को 14 साल बीत चुके हैं लेकिन इस युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की दिलेरी की दास्‍तां आज भी देशवासियों की जुबान पर है। मई 1999 को पाकिस्‍तानी सैनिक ने करगिल सेक्‍टर में घुसपैठ कर हमारी कई चोटियों पर कब्‍जा कर लिया। पूरे दो महीने से ज्यादा चले इस युद्ध में भारतीय थलसेना व वायुसेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल पार न करने के आदेश के बावजूद अपनी मातृभूमि में घुसे आक्रमणकारियों को मार भगाया था। स्वतंत्रता का अपना ही मूल्य होता है, जो वीरों ने अपने रक्त से चुकाया।इस जंग में चार हजार पाकिस्‍तानी करगिल जंग में मारे गए हैं। वहीं भारतीय सेना के मुताबिक 543 अफसर और जवान शहीद हुए जबकि करीब 1300 जख्‍मी हुए।

पाकिस्तान के इस दुस्सापस का जवाब देने के लिए आर्मी ने 'ऑपरेशन विजय' शुरू किया। वही एयरफोर्स ने आर्मी को सपोर्ट करने के लिए 'ऑपरेशन सफेद सागर' शुरू किया, जबकि नौसेना ने कराची तक पहुंचने वाले समुद्री मार्ग से सप्लाई रोकने के लिए अपने पूर्वी इलाकों के जहाजी बेड़े को अरब सागर में ला खड़ा किया। इन सब जोरदार प्रयासों के चलते 26 जुलाई 1999 को भारतीय सेना ने करगिल को पाकिस्‍तानी सैनिकों के कब्‍जे से पूरी तरह मुक्‍त करा लिया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story