Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

श्री श्री का मंदिर मिशन : 20 करोड़ के ऑफर के खुलासे के बाद पलटा निर्मोही अखाड़ा

राम मंदिर मुद्दे पर मध्यस्थता कर रहे श्री श्री रविशंकर के मिशन को चोट पहुंचाने की भी कोशिश हो रही हैं।

श्री श्री का मंदिर मिशन : 20 करोड़ के ऑफर के खुलासे के बाद पलटा निर्मोही अखाड़ा

राम मंदिर मुद्दे पर मध्यस्थता कर रहे श्रीश्री रविशंकर के प्रयासों के बीच एक बड़ा खुलासा हुआ है। राम मंदिर मुद्दे के पक्षकारों में से निर्मोही अखाड़ा से जुड़े मंहत दिनेंद्र दास ने बताया था कि समझौते के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड को एक करोड़ से लेकर बीस करोड़ रूपए तक दिए जा सकते हैं।

हालांकि अब निर्मोही अखाड़ा अपने बयान से पलट गया है। महंत दिनेंद्र दास ने पैसे के किसी भी ऑफर की बात को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि ये आरोप सरासर गलत हैं और इनमें कोई सच्चाई नहीं हैं।

गौरतलब है कि श्रीश्री आज ही अयोध्या पहुंचे हैं और इस दैरान किया गया ये खुलासा उनके प्रयासों को गहरा धक्का पहुंचा सकता है। श्रीश्री ने बुधवार के कहा था कि उनके पास किसी भी तरह का कोई प्रस्ताव नहीं है, वह बस सभी को इस मसले पर एकमत करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ेंः NGT ने तीर्थयात्रियों की सुविधाओं को लेकर अमरनाथ श्राइन बोर्ड को लगाई फटकार

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर मुद्दे पर श्रीश्री की तरफ से किए जा रहे प्रयासों पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा की श्रीश्री झूठ बोल रहे हैं, वह मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के किसी भी सदस्य से नहीं मिले हैं। ओवैसी ने कहा कि ऐसा करके उन्हें कोई नोबेल अवार्ड नहीं मिलने वाला है।

केंद्र सरकार ने इस पूरे मामले से खुद को दूर कर लिया है। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे पर श्रीश्री की तरफ किए जा रहे प्रयासों में सरकार की कोई भूमिका नहीं है। नकवी ने कहा कि अगर ये मामला बातचीत से सुलझ जाता है तो अच्छी बात है।

Next Story
Share it
Top