Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

13 साल पुराने सोहराबुद्दीन मुठभेड़ केस में सभी आरोपी बरी

सीबीआई की विशेष अदालत गैंगस्टर सोहराबुद्दीन शेख, उसकी बीबी कौसर शेख और सहयोगी तुलसीराम प्रजापति के कथित फर्जी मुठभेड़ के मामले में आज फैसला सुना दिया है। इस मामले में कोर्ट ने 210 गवाहों का बयान दर्ज किया है।

13 साल पुराने सोहराबुद्दीन मुठभेड़ केस में सभी आरोपी बरी
X
सीबीआई की विशेष अदालत गैंगस्टर सोहराबुद्दीन शेख, उसकी बीबी कौसर शेख और सहयोगी तुलसीराम प्रजापति के कथित फर्जी मुठभेड़ के मामले में आज फैसला सुना दिया है। इस मामले में कोर्ट ने 210 गवाहों का बयान दर्ज किया है। कोर्ट ने सभी 22 आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया है।
अदालत ने इस मामले में कहा कि हत्या को साबित करने के लिए गवाहों का बयान संतोष जनक नहीं है। अदालत ने कहा कि इस मामले में पर्याप्त साक्ष्य नहीं हैं। अदालत ने कहा कि तुलसीराम प्रजापति की हत्या सचसाबित नहीं होती है।
आपको बता दें कि यह मामला 12 साल पुराना है। इस मामले में कई गवाहों, आरोपियों और जांचकर्ताओं ने कहा है कि उन्हें घटना पूरी तरह से याद नहीं है। इस मामले की सुनवाई में उस समय नया मोड़ आ गया था जब एक जांचकर्ता ने कह दिया कि यह मुठभेड़ फर्जी थी और तीनों की हत्या हुई है।
हत्या की साजिश अमित शाह और राजस्थान में उस समय के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने रची थी। इन दोनों का भ्रष्ट नौकरशाहों, पुलिस अधिकारियों और गैंगस्टर्स से संबंध था। इस महीने की शुरुआत में आखिरी दलीलें पूरी किए जाने के बाद सीबीआई स्पेशल कोर्ट के जज एसजे शर्मा ने कहा था कि वह 21 दिसंबर को इस मामले में फैसला सुनाएंगे।
इस मामले में ज्यादातर आरोपी गुजरात और राजस्थान के पुलिस अधिकारी थे। इस पूरे मामले में सीबीआई ने 38 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था। जिनमें से 16 को अदालत ने सबूत के अभाव में आरोपमुक्त कर दिया था। इसमें अमित शाह, राजस्थान के तत्कालीन गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया, गुजरात पुलिस के पूर्व वरिष्ठ अधिकारी डीजी वंजारा शामिल हैं।

सोहराबुद्दी कौन था

सोहराबुद्दीन मध्य प्रदेश के उज्जैन के एक छोटे से गांव का रहने वाला था। सोहराबुद्दीन की मां सरपंच और उसके पिता जनसंघ के पूर्व सदस्य थे। सोहराबुद्दीन के साथी उसे वकील कहकर बुलाते थे। बताया जाता है कि युवा होते ही उसने जरायम की दुनिया में कदम रखा था। 1995 में ही उसे गुप्त रूप से बड़ी संख्या में हथियार रखने के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story