Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

6 भारतीयों ने जीती ''गेट्स कैम्ब्रिज स्कॉलरशिप''

छह भारतीय अमेरिकियों को बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के प्रतिष्ठित ग्रेट्स कैम्ब्रिज स्कॉलरशिप के लिए चुना गया है।

6 भारतीयों ने जीती

छह भारतीय अमेरिकियों को बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के प्रतिष्ठित ग्रेट्स कैम्ब्रिज स्कॉलरशिप के लिए चुना गया है। इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन दुनिया भर के मेधावी स्नातक छात्रों को कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में पढ़ाई के लिए 21 करोड़ अमेरिकी डॉलर की छात्रवृत्ति प्रदान करता है।

इसके लिए कुल 35 छात्रों को चुना गया है जिनमें से छह भारतीय मूल के अमेरिकी हैं। शेष देशों से चुने गए लोगों के नामों की घोषणा अप्रैल में की जाएगी। इन भारतीय अमेरिकियों के नाम हैं, नील दवे, आर्यन मंडल, प्रणय नाडेला, वैतिश वेलाजाहन, काम्या वारागुर और मोनिका कुल्लर।

इस कार्यक्रम का मकसद लोगों के जीवन में सुधार लाने के लिए प्रतिबद्ध भावी हस्तियों का वैश्विक नेटवर्क तैयार करना है। प्रतिष्ठित छात्रवृत्ति के लिए चुने जाने के बाद दवे ने कहा कि गेट्स कैम्ब्रिज स्कॉलर चुने जाने पर मैं बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं।

जज बिसनेट स्कूल में टेक्नोलॉजी पॉलिसी में एमफिल करके नया अकादमिक अनुभव हासिल करने के अलावा मैं खास तौर पर उस अंतरराष्ट्रीय समुदाय का भाग बन कर उत्साहित हूं जो कि समुदायिक भागीदारी के लिये छात्रवृत्ति देने को इतना प्रतिबद्ध है।

वहीं नाडेला ने कहा कि वह इस समुदाय कर हिस्सा बन कर और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के पब्लिक हेल्थ एंड प्राइमरी केयर विभाग में जन स्वास्थ्य में एमफिल करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं।

मोनिका का कहना है कि कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में उनका लक्ष्य तनाव से भरे इस विश्व में नकारात्मक भावनाओं को प्रभावी रूप से कम करने से जुड़ा शोध करना है।

Next Story
Top