Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

20 जून तक बताए राष्ट्रपति उम्मीदवार का नाम: विपक्ष

राजनाथ और वेंकैया के सोनिया गांधी से मुलाकात करने के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि बीजेपी नेताओं ने कोई नाम प्रस्तावित नहीं किया।

20 जून तक बताए राष्ट्रपति उम्मीदवार का नाम: विपक्ष
X

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी हुई है। सत्ता हो या विपक्ष दोनों यह नहीं तय कर पा रहा है कि राष्ट्रपति उम्मीदवार किसे बनाया जाए। क्योकि उम्मीदवार के लिए कोई ऐसा नाम होना चाहिए जिस पर दोनों पक्षों की सहमति जरुरी हो ।

इस कड़ी में विपक्ष पार्टियों से नेताओं से बीजेपी पार्टी नेताओं की लगातार मुलाकात जारी है। लेकिन इस बीच सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने बड़ा दांव चल दिया है।

इसे भी पढ़ें- राष्ट्रपति चुनाव: सुषमा बोलीं- उम्मीदवारी की बातें अफवाह, मैं दौड़ में शामिल नहीं

सीताराम येचुरी ने शनिवार को राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर साफ कर दिया कि अगर केंद्र सरकार ने 20 जून तक उम्मीदवार का नाम तय नहीं किया, तो वो विपक्षी पार्टियों के नेताओं से अपील करेंगे कि वे अलग से अपने उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दें।

एक तरह से सीपीएम महासचिव ने केंद्र सरकार को 20 तारीख तक का अल्टीमेटम दे दिया है। हालांकि बाकी पार्टियों ने इस पर अभी अपनी सहमति नहीं दी है।फिर भी बीजेपी के लिए यह चिन्ता का सबक साबित हो सकता है।

इससे पहले राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर आम राय बनाने के लिए बीजेपी की एक समिति ने शुक्रवार को कांग्रेस और वाम दलों के शीर्ष नेताओं से मुलाकात की थी। लेकिन समिति द्वारा किसी उम्मीदवार का नाम नहीं लिए जाने पर विपक्ष ने इस कवायद पर सवाल उठाया था।

समिति के दो सदस्यों केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और एम वेंकैया नायडू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी के साथ ही आडवाणी और मुरली मनोहर जैसे वरिष्ठ बीजेपी नेताओं से मुलाकात की थी।

इसे भी पढ़ें- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जाते-जाते किया ये बड़ा काम

किसी नाम का प्रस्ताव नहीं करने पर बीजेपी की आलोचना करते हुए शुक्रवार को सीताराम येचुरी ने कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्षी दलों के साथ बीजेपी की बैठकें महज दिखावा है। उन्होंने साफ कर दिया था कि मजबूत धर्मनिरपेक्ष साख वाला व्यक्ति ही अगला राष्ट्रपति होना चाहिए।

राजनाथ और वेंकैया के सोनिया गांधी से मुलाकात करने के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि बीजेपी नेताओं ने कोई नाम प्रस्तावित नहीं किया और कांग्रेस नेताओं से अपने विकल्प के बारे में बताने को कहा।

उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद थी कि बीजेपी नेता राष्ट्रपति पद के लिए एक-दो नाम के साथ आएंगे ताकि कांग्रेस उस पर कोई फैसला कर सके, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story