Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद को मिला शिवसेना का समर्थन

17 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग होगी।

राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद को मिला शिवसेना का समर्थन
X

एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को टीआरएस, बीजेडी, AIADMK, वाइएसआरसी के बाद शिवसेना का भी समर्थन मिल गया है। पार्टी हाईकमान उद्धव ठाकरे ने इसका ऐलान मंगलवार शाम को खुद किया।

इससे पहले रामनाथ कोविंद ने बिहार के राज्यपाल पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को अपना इस्तीफा सौंपा। उनके इस्तीफे के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।

रामनाथ कोविंद को बिहार चुनाव 2015 से कुछ माह पहले राज्यपाल बनाया गया था। उनको राष्ट्रपति पद का प्रत्याशी बनाने के पीछे बीजेपी की यह रणनीति है कि एक तो वह एक साफ-सुथरी छवि वाले राजनेता हैं और दूसरा वो दलित बिरादरी से ताल्लुक रखते हैं।

गौरतलब है कि राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए तमाम कयासों पर विराम लगाते हुए भाजपा ने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया है। एनडीए के इस फैसले के बाद एनडीए के सहयोगी शिवसेना और विपक्षी दलों में नाराजगी साफ देखने को मिली।

विपक्ष ने साधा निशाना

ममता बनर्जी ने कहा, 'प्रणब मुखर्जी या, यहां तक कि सुषमा स्वराज या लाल कृष्ण आडवाणी के कद के किसी व्यक्ति को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता था।

शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा, 'रामनाथ कोविंद का नाम पहले नहीं सुझाया गया था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब घोषणा की गई थी, तब हमें पता चला। राउत ने आज कहा कि पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे राष्ट्रपति पद के लिए राजग उम्मीदवार को समर्थन देने के मुद्दे पर फैसला करने के लिए पार्टी नेताओं की बैठक बुलाएंगे।

सीपीआईएम प्रमुख सीताराम येचुरी ने कहा, 'रामनाथ कोविंद जी आरएसएस के दलित शाखा के प्रमुख थे, वो एक राजनीती हुआ ना। ये सीधा सीधा राजनीतिक टकराव है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि कोविंद शुरू से ही बीजेपी और संघ से जुड़े हैं, इसलिए हमारी पार्टी उनकी राजनीति पृष्ठभूमि को लेकर सहमत नहीं है। अगर विपक्ष कोई लोकप्रिय दलित का नाम इस पद के लिए लाता है तो वे उस पर भी विचार करेंगी।

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि बीजेपी का यह फैसला एकतरफा है। आजाद ने कहा, रामनाथ कोविंद का नाम फाइनल करने से पहले कांग्रेस को कोई सूचना नहीं दी गई थी। कोविंद को समर्थन देने न देने के सवाल पर उन्होंने कहा, पार्टी विपक्ष की दूसरी पार्टियों से बात करके अपना स्टैंड क्लियर करेगी।

एनडीए के फैसले का इन दलों ने किया समर्थन

तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव ने एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन दे दिया है।

तेलंगाना में सत्तारुढ टीआरएस ने कहा कि पार्टी राजग के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार राम नाथ कोविंद का समर्थन करेगी।

कोविंद की उम्मीदवारी पर फैसला लिए जाने के तुरंत बाद मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर के कार्यालय ने एक बयान जारी कर कोविंद का समर्थन करने की बात कही।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को राजभवन में कोविंद से मुलाकात की। राज्यपाल रामनाथ कोविंद से मिलने के बाद नीतीश कुमार ने जदयू की ओर से उन्हें समर्थन देने के मामले में सीधा जवाब तो नहीं दिया, लेकिन उन्होंने व्यक्तिगत खुशी जाहिर की।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) द्वारा राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने को देश के दलित समुदाय का सर्वोच्च सम्मान करार देते हुए सभी सियासी पार्टियों से दलगत भावना से उपर उठकर कोविंद के समर्थन की अपील की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story