Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राम मंदिर गिराकर बनाई गई थी बाबरी मस्जिद: शिया वक्फ बोर्ड

शिया वक्फ बोर्ड ने ट्रायल कोर्ट द्वारा 30 मार्च 1946 को सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा सुनाए गये फैसले के विरुद्ध सुप्रीमकोर्ट में पिटीशन फाइल की है।

राम मंदिर गिराकर बनाई गई थी बाबरी मस्जिद: शिया वक्फ बोर्ड

शिया वक्फ बोर्ड ने बाबरी मस्जिद केस हारने के बाद बुधवार को सुप्रीमकोर्ट में मामला दर्ज कराया। सुप्रीमकोर्ट शुक्रवार को राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुनवाई करेगा।

शिया वक्फ बोर्ड ने ट्रायल कोर्ट द्वारा 30 मार्च 1946 को सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा सुनाए गये फैसले के विरुद्ध सुप्रीमकोर्ट में पिटीशन फाइल की है।

इसे भी पढ़ें: 'मुस्लिमों में बेचैनी का अहसास और असुरक्षा की भावना है'

शिया वक्फ बोर्ड ने सर्वोच्च न्यायलय में दाखिल की गई अपनी याचिका में बताया है कि बाबरी मस्जिद का निर्माण राम मंदिर को तोड़ कर किया गया है। वक्फ बोर्ड ने न्यायलय से अपील की है कि कोर्ट बाकी फैसलों के साथ उसकी याचिका पर भी सुनवाई करे।

अपनी इस याचिका पर शिया वक्फ बोर्ड ने कहा कि ट्रायल कोर्ट ने सुन्नी वक्फ बोर्ड को बाबरी मस्जिद का मालिकाना हक़ सौंप का बहुत बड़ी गलती कर दी है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने 14 विधायकों को किया पार्टी से निलंबित

अपनी इस बात के पीछे शिया वक्त बोर्ड ने ये तर्क दिया है कि भले ही इस मस्जिद का निर्माण मुग़ल बादशाह बाबर जो कि एक सुन्नी मुसलमान था के हुक्म पर हुआ हो लेकिन उसके मंत्री मीर बाकी ने अपना पैसा खर्च कर मस्जिद बनवाई थी और मीर बाकी शिया था।
Next Story
Share it
Top